Saturday, April 13, 2024
Homeउत्तर प्रदेशयुवती का आरोप बनारसी दरोगा कर रहा है शोषण क्या सचमुच बदल...

युवती का आरोप बनारसी दरोगा कर रहा है शोषण क्या सचमुच बदल रही है उत्तर प्रदेश की पुलिस !

-

प्रेमी दरोगा के प्रेमजाल में फंसी युवती की कहानी किसी दुस्वप्न से कम नहीं है। शोषण, मार, डर और घुटन से बाहर आने में युवती को 4 साल लग गए। बीते 20 जून को दरोगा बाबू ने फोन कर मिलने को कहा और न मिलने पर जान से मारने की धमकी दी तो युवती ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर अपनी आपबीती बताते हुए जान बचाने की गुहार लगाई।

Varanasi news । वाराणसी । बनारस में खाकी पर पिछले कई दिनों से गंभीर आरोप लग रहे हैं। डकैती से लेकर जिस्मफरोशी के धंधे में संलिप्त पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई हुए ज्यादा दिन नहीं बीते होंगे कि फिर से खाकी पर एक युवती ने शारीरिक शोषण, मारपीट और जान से मारने का आरोप लगाया है।

प्रेमी दरोगा के प्रेमजाल में फंसी युवती की कहानी किसी दुस्वप्न से कम नहीं है। शोषण, मार, डर और घुटन से बाहर आने में युवती को 4 साल लग गए। बीते 20 जून को दरोगा बाबू ने फोन कर मिलने को कहा और न मिलने पर जान से मारने की धमकी दी तो युवती ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर अपनी आपबीती बताते हुए जान बचाने की गुहार लगाई। मामले की गंभीरता को देखते हुए इस मामले की जांच लक्सा थानाध्यक्ष को सौंपी गई है।

इस पूरी कहानी के खलनायक नगर निगम चौंकी इंचार्ज हैं । लक्सा थाना क्षेत्र के कमलापति त्रिपाठी कालोनी की रहने वाली युवती 2019 में दरोगा बाबू से मिली। पहले दोस्ती हुई फिर प्यार। प्यार का वास्ता देकर दरोगा ने युवती को छला। अलग-अलग जगह बुलाकर शारीरिक शोषण किया।

युवती ने शादी करने को कहा तो दरोगा बाबू को गुस्सा आ गया। पहले युवती को पीटा फिर मुंह बंद रखने की धमकी दी। यहां तक कि घर पर आकर युवती की मां के साथ मारपीट और अभद्रता की।

डरकर युवती ने नंबर ब्लाक किया तो दूसरे नबंरो से फोन कर मिलने के लिए बुलाता रहा। इधर बीच फोन करके जान से मारने की धमकी दी तो युवती ने जान बचाने के लिए आला अधिकारियों को पत्र लिखकर जान बचाने के लिए मदद मांगी।

Also read : यह भी पढ़े : सफाई कर्मी पति की , PCS पत्नी का बेमेल रिश्ता बना चर्चा का केन्द्र , एक दशक के रिश्ते का अब होने वाला है अन्त , पति के गुहार पर शुरु हुईं जॉच

युवती का कहना है कि इससे पहले दरोगा उसके घर पर आकर फायरिंग कर चुका है। पूरी घटना यह बताने के लिए काफी है कि खाकी जनहित में कितनी सक्रिय है । युवती का कहना है कि डर के मारे वो सिगरा थाने नहीं गई क्योंकि नगर निगम चौंकी सिगरा थाने से ही संबंधित है।

UP police , Varanasi police , pati patni aur voh ,dm Varanasi , Varanasi khabar , Varanasi news , sonbhdra news , sonbhdra khabar

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!