Sunday, August 7, 2022
spot_img
Homeराजनीतिप्रत्याशियों के चयन में कांग्रेस ने लगाया गुणा गणित , ब्राह्मणों को...

प्रत्याशियों के चयन में कांग्रेस ने लगाया गुणा गणित , ब्राह्मणों को दी खास अहमियत

कांग्रेस पार्टी ने आज अपने प्रत्याशियों की दूसरी सूची जारी कर दी है. 41 प्रत्याशियों की इस सूची में 16 महिलाओं को टिकट दिया गया है. पार्टी ने 41 सीटों में 12 सामान्य, नौ मुस्लिम, 12 ओबीसी, सात अनुसूचित जाति और एक सिख को प्रत्याशी बनाया है.

लखनऊ ।  कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार को 41 प्रत्याशियों की अपनी दूसरी सूची जारी की. इसमें 16 महिलाओं को टिकट दिया गया. कांग्रेस पार्टी उम्मीदवारों की औसत आयु 45.8 साल तय की है.

इनमें महिला प्रत्याशियों की औसत आयु 42 साल और पुरुष प्रत्याशियों की औसत आयु 49 साल है. टिकटों के वितरण में कांग्रेस पार्टी ने जाति और वर्ग का भी पूरा ख्याल रखा है.

41 सीटों में कांग्रेस पार्टी ने 12 सामान्य, नौ मुस्लिम, 12 ओबीसी, सात अनुसूचित जाति और एक सिख को प्रत्याशी बनाया है. सामान्य श्रेणी में 12 में से नौ ब्राह्मण और तीन राजपूत शामिल हैं. ओबीसी में एक बनिया, एक गुज्जर, पांच जाट, दो कश्यप, एक कुर्मी, एक प्रजापति और एक सैनी समाज के व्यक्ति को उम्मीदवार बनाया है.

अनुसूचित जाति के प्रत्याशियों की बात करें तो कांग्रेस पार्टी ने धनगर जाति का एक उम्मीदवार, धोबी जाति का एक, जाटव जाति के दो, खटिक जाति से एक और वाल्मीकि समाज से दो लोगों को टिकट दिया है.

कांग्रेस पार्टी की तरफ से टिकट वितरण में सभी समाजों को अहमियत दी जा रही है, लेकिन गोरखा समाज को दरकिनार कर दिया गया है. इससे गोरखा समाज में नाराजगी है. युवा गोरखा समाज के अध्यक्ष बलराम सिंह थापा और मीडिया प्रभारी संजय थापा ने इस बात पर आपत्ति जताई है.

उनका कहना है कि कांग्रेस पार्टी जब सभी जाति, धर्म और वर्गों को साथ लेकर चलने की बात कहती है तो गोरखा समाज भी इसी उत्तर प्रदेश का हिस्सा है. यूपी में गोरखा समाज की तकरीबन 20 लाख की आबादी है तो गोरखा समाज पर ध्यान क्यों नहीं दिया जा रहा है? कांग्रेस पार्टी गोरखा समाज को भी प्रतिनिधित्व दे.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News