Tuesday, October 4, 2022
spot_img
Homeदेशभाजपा की जीत पर बोले पीएम मोदी- बीजेपी की नीयत और नीति...

भाजपा की जीत पर बोले पीएम मोदी- बीजेपी की नीयत और नीति पर जनता ने लगाई मुहर

यूपी, उत्तराखंड, मणिपुर और गोवा में हुए विधानसभा चुनाव में भाजपा की जीत के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाजपा मुख्यालय पहुंचे और पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उत्तर प्रदेश ने देश को अनेक प्रधानमंत्री दिए हैं लेकिन पांच साल का कार्यकाल पूरा करने वाले किसी मुख्यमंत्री के दोबारा चुने जाने का ये पहला उदाहरण है.

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कांग्रेस और समाजवादी पार्टी सहित अन्य विपक्षी दलों पर जोरदार हमला बोला और कहा कि एक ना एक दिन जरूर देश की राजनीति से परिवारवाद की राजनीति का ‘सूर्यास्त’ हो जाएगा. उन्होंने कहा कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में देश के मतदाताओं ने सूझबूझ का परिचय देते हुए ऐसे भविष्य की ओर इशारा भी कर दिया है. भाजपा की जीत के बाद पार्टी मुख्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने परिवारवाद की राजनीति को अपनी सबसे बड़ी चिंता बताया और कहा कि इसका मतलब यह नहीं है कि वह किसी परिवार के खिलाफ हैं या किसी से उनकी व्यक्तिगत दुश्मनी है.

भाजपा मुख्यालय में मोदी का स्वागत

उन्होंने कहा, ‘मैं लोकतंत्र की चिंता करता हूं.’ मोदी ने कहा कि परिवारवाद की राजनीति ने राज्यों का नुकसान किया है और उन्हें पीछे धकेला है. उन्होंने कहा, ‘मतदाताओं ने इसे समझा है और चुनावों में लोकतंत्र की ताकत को मजबूत किया है.’ उन्होंने कहा, ‘एक न एक दिन ऐसा आएगा, जब भारत में परिवारवादी राजनीति का सूर्यास्त देश के नागरिक करके रहेंगे. इस चुनाव में देश के मतदाताओं ने अपनी सूझबूझ का परिचय देते हुए, आगे क्या होने वाला है, इसका इशारा कर दिया है.’

पीएम मोदी का संबोधन

कोरोना के समय सरकार की आलोचना, टीकाकरण पर सवाल और यूक्रेन संकट के दौरान वहां फंसे भारतीयों की सुरक्षित निकासी के लिए चलाए गए अभियान के दौरान भी गैरजिम्मदाराना रवैया अपनाने का विपक्ष पर आरोप लगाते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के नागरिक तो बहुत जिम्मेदारी से पेश आ रहे हैं लेकिन कुछ लोग लगातार राजनीति का स्तर गिराते जा रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘इन लोगों ने ऑपरेशन गंगा को भी प्रदेशवाद की बेड़ियों में बांधने की कोशिश की. हर योजना, हर कार्य को क्षेत्रवाद, प्रदेशवाद और सम्प्रदायवाद का रंग देने का प्रयास भारत के उज्जवल भविष्य के लिए बहुत बड़ी चिंता का विषय है.’

प्रधानमंत्री ने विपक्षी दलों पर भ्रष्टाचार के खिलाफ स्वतंत्र एजेंसियों की कार्रवाई को रोकने के लिए साजिश रचने और उनकी राह में रोड़े अटकाने का भी आरोप लगाया. उन्होंने कहा, ‘आज निष्पक्ष संस्थाएं भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई करती हैं तो भ्रष्टाचारियों का पूरा इकोसिस्टम उन्हें बदनाम करने के लिए सामने आ जाता है. घोटाले से घिरे लोग एकजुट होकर अपने इकोसिस्टम की मदद से इन संस्थाओं पर ही दबाव बनाने लग जाते हैं.’ मोदी ने कहा कि ऐसे लोगों को न्याय प्रक्रिया पर भी भरोसा नहीं है और भ्रष्टाचारियों के खिलाफ अदालतों की कार्रवाई को भी वह धर्म, प्रदेश व जाति का रंग देने लगते हैं. उन्होंने कहा, ‘ऐसे भ्रष्टाचारियों, माफियाओं को अपने समाज, सम्प्रदाय व जाति से दूर करने की कोशिश करें. जाति, सम्प्रदाय को बदनाम करने वालों से दूर रहना है, विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता देनी है.’

प्रधानमंत्री ने कहा कि कुछ लोग यह कहकर उत्तर प्रदेश को बदनाम करते हैं कि यहां के चुनाव में तो जाति ही चलती है. उन्होंने कहा, ‘2014 के चुनाव नतीजे देखें, 2017, 2019 के नतीजे देखें और अब फिर 2022 में भी देख रहे हैं… हर बार उत्तर प्रदेश के लोगों ने विकासवाद की राजनीति को ही चुना है.’

‘मोदी सरकार की नीतियों पर जनता ने लगाई मुहर’
इससे पहले, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि आज चुनाव के नतीजे जो भाजपा के पक्ष में एकतरफा आए हैं, उसकी विजय यात्रा के क्रम में इतनी बड़ी संख्या में आप सब लोग आए हैं. भाजपा के करोड़ों कार्यकर्ताओं की ओर से मैं प्रधानमंत्री का स्वागत और अभिनंदन करता हूं. उन्होंने कहा कि आज जो नतीजे आए हैं, जिसमें एकतरफा चार राज्यों की जनता का आशीर्वाद हमें मिला है. इसमें जो योगदान भारत की जनता ने किया है, वो बताता है कि प्रधानमंत्री मोदी द्वारा चलाए गए कार्यक्रम, उनके द्वारा चलाई गई नीतियों पर जनता ने मुहर लगाई है.

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की जनता ने भरपूर आशीर्वाद दिया है. हम दो तिहाई बहुमत की तरफ बढ़ रहे हैं. जो लोग वहां भय का वातावरण बनाते थे, वो आज खुद भयभीत हैं. इसके लिए हम योगी जी का भी धन्यवाद करते हैं. उन्होंने कहा कि जब जन कल्याणकारी योजनाओं के द्वारा किसी साधारण व्यक्ति का सशक्तिकरण होता है, तो वो साधारण व्यक्ति चुनाव में कमल के निशान पर बटन दबाता है. प्रधानमंत्री जी ने भारत की राजनीति की संस्कृति बदली है. अब रिपोर्ट कार्ड की राजनीति के आधार पर चुनाव लड़े जाते हैं.

भाजपा ने उत्तर प्रदेश में दोबारा सत्ता में वापसी की है. अब तक आए नतीजों में राज्य की 403 विधानसभा सीटों में से भाजपा गठबंधन को 274 सीटें मिलती दिख रही हैं. जबिक उत्तराखंड में कुल 70 विधानसभा सीटों में से भाजपा 47 सीट पर जीत हासिल कर सकती है. इसी तरह गोवा की 40 सीटों में से भाजपा ने 20 सीट पर जीत दर्ज की है. मणिपुर में भी भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News