Tuesday, October 4, 2022
spot_img
Homeदेश1,017 थर्ड जेंडर मतदाता कल 613 उम्मीदवारों के किस्मत का करेंगें फैसला

1,017 थर्ड जेंडर मतदाता कल 613 उम्मीदवारों के किस्मत का करेंगें फैसला

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के सातवें और अंतिम चरण के लिए 09 जिलों की 54 विधानसभा सीटों पर सोमवार को मतदान होगा. इन सीटों पर सीएम योगी व विपक्षी दलों के कई कद्दावर नेताओं की साख दांव पर है

लखनऊ । विधानसभा चुनाव की चल रही प्रक्रिया के अंतर्गत आखिरी और 7वें चरण के चुनाव के लिए कल सात मार्च को मतदान होगा. इस चरण के चुनाव में योगी सरकार के कई मंत्री चुनावी मैदान में हैं. वहीं समाजवादी पार्टी सहित अन्य विपक्षी दलों के कई अन्य बड़े नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है. 7वें चरण के में 9 जिलों की 54 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा. इसमें 613 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं, जिनकी किस्मत का फैसला कल इनके विधानसभा क्षेत्रों की जनता करेगी.

इन जिलों में होगा मतदान

सात मार्च को 09 जिलों में वोटिंग होगी. इनमें आजमगढ़, मऊ, जौनपुर, गाजीपुर, चंदौली, वाराणसी, मिर्जापुर, भदोही एवं सोनभद्र जिला शामिल है. इन जिलों की 54 विधानसभा सीटो पर मतदान होगा. सातवें चरण होने वाले मतदान में 11 सीटें अनुसूचित जाति एवं 02 सीटें अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित हैं. मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने ने बताया है कि 05 जनवरी, 2022 को प्रकाशित मतदाता सूची के अनुसार सातवें चरण में कुल 2 करोड़ पांच लाख 51 हजार 521 मतदाता हैं. इसमें 1 करोड़ 9 लाख 1 हजार 9 पुरूष मतदाता व 96 लाख 49 हजार 495 महिला मतदाता हैं. इसके अलावा 1,017 थर्ड जेंडर मतदाता हैं.

इन 54 विधानसभा सीटों पर होगा मतदान

सातवें चरण में जिन सीटों पर मतदान होना है, इनमें 343-अतरौलिया, 344-गोपालपुर, 345-सगड़ी, 346-मुबारकपुर, 347-आज़मगढ़, 348-निजामाबाद, 349-फूलपुर-पवई, 350-दीदारगंज, 351-लालगंज (अ.जा.), 352-मेहनगर (अ.जा.), 353-मधुबन, 354-घोसी, 355-मुहम्मदाबाद-गोहना (अ.जा.), 356-मऊ, 364-बदलापुर, 365-शाहगंज, 366-जौनपुर, 367-मल्हनी, 368-मुंगरा बादशाहपुर, 369-मछलीशहर (अजा.), 370-मड़ियाहू, 371-जफराबाद, 372-केराकत (अ.जा.), 373-जखनियां (अ.जा.), 374-सैदपुर (अ.जा.), 375-गाजीपुर, 376-जंगीपुर, 377-जहूराबाद, 378-मोहम्मदाबाद, 379-जमानिया, 380-मुगलसराय, 381-सकलडीहा, 382-सैयदराजा, 383-चकिया (अ.जा.), 384-पिण्ड्रा, 385-अजगरा (अ.जा.), 386-शिवपुर, 387-रोहनिया, 388-वाराणसी उत्तर, 389-वाराणसी दक्षिण, 390-वाराणसी कैन्टोनमेंट, 391-सेवापुरी, 392-भदोही, 393-ज्ञानपुर, 394-औराई (अ.जा.), 395-छानबे (अ.जा.), 396-मिर्जापुर, 397-मझवां, 398-चुनार, 399-मड़िहान, 400-घोरावल, 401-राबटर्सगंज, 402-ओबरा (अ.ज.जा.) एवं 403-दुद्धी (अ.ज.जा.) विधान सभा सीटें शामिल हैं.

योगी सरकार के इन मंत्रियों की प्रतिष्ठा दांव पर

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 के सातवें आखिरी चरण के मतदान में योगी सरकार के कई मंत्रियों की प्रतिष्ठा दांव पर है. इनमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी की दक्षिण विधानसभा सीट से डॉक्टर नीलकंठ तिवारी चुनाव मैदान में है. वहीं वाराणसी की शहर उत्तरी सीट से मंत्री रविंद्र जायसवाल चुनाव मैदान में है. इसी तरह वाराणसी की शिवपुर सीट से योगी सरकार में मंत्री अनिल राजभर चुनाव मैदान में है.

ऐसे में तमाम सीटों पर सरकार के मंत्रियों की प्रतिष्ठा लगी हुई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर बीजेपी के तमाम बड़े नेताओं ने वाराणसी की इन सीटों पर जीत दर्ज करने को लेकर पूरी ताकत के साथ चुनाव प्रचार किया है. इसी कड़ी में जौनपुर की जौनपुर सदर सीट से मंत्री गिरीश चंद्र यादव चुनाव मैदान में हैं. मिर्जापुर की मड़िहान सीट से मंत्री रमाशंकर पटेल गाजीपुर की सदर सीट पर चुनाव लड़ रहे हैं. योगी सरकार में राज्य मंत्री डॉक्टर संगीता बलवंत भी चुनाव लड़ रही हैं.

इन विपक्षी दलों के नेताओं की साख दांव पर


योगी सरकार में मंत्री रहे और चुनाव की नोटिफिकेशन जारी होने के बाद भाजपा छोड़ साइकिल की सवारी करने वाले पूर्व मंत्री दारा सिंह चौहान सपा के टिकट पर मऊ की घोसी सीट से चुनावी मैदान में हैं. पिछली बार बीजेपी से चुनाव जीतने वाले दारा सिंह चौहान इस बार चुनाव जीतने के लिए सपा के टिकट पर दांव खेल रहे हैं. यूपी सरकार के इन दिग्गजों की पर सभी की नदर टिकी हुई है. इसी तरह सपा गठबंधन के अंतर्गत मऊ की सदर सीट से माफिया मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी चुनाव मैदान में हैं.

इस बार माफिया मुख्तार अंसारी जेल में है और खुद चुनाव नहीं लड़ रहा है और उनका बेटा अब्बास अंसारी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के टिकट पर चुनावी मैदान में है. इसके अलावा गाजीपुर की जहूराबाद सीट से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर खुद चुनाव मैदान में हैं. सबसे खास बात यह है कि इस बार गाजीपुर की जहूराबाद सीट पर चुनाव काफी रोचक बना हुआ है. इस सीट पर बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर सपा की सरकार में मंत्री रहीं शादाब फातिमा चुनाव लड़ रही हैं.


इसी तरह आजमगढ़ से समाजवादी पार्टी की सरकार में मंत्री रहे दुर्गा प्रसाद यादव आजमगढ़ सदर सीट से चुनावी मैदान में हैं. आजमगढ़ की फूलपुर पवई सीट से पूर्व सांसद रमाकांत यादव चुनाव मैदान में है. वह बीजेपी में थे और चुनाव से पहले समाजवादी पार्टी में शामिल हुए रमाकांत यादव भी बाहुबली छवि के माने जाते हैं.

मिर्जापुर सदर सीट से कैलाश चौरसिया भी चुनाव मैदान में है. समाजवादी पार्टी की सरकार में कैलाश चौरसिया भी मंत्री रहे हैं. जौनपुर की शाहगंज सीट से सपा सरकार में पूर्व मंत्री शैलेंद्र यादव उर्फ ललई यादव भी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.

सातवें चरण में जौनपुर की मल्हनी विधानसभा सीट से समाजवादी पार्टी की सरकार में मंत्री रहे दिवंगत पारसनाथ यादव का बेटा लकी यादव चुनाव मैदान में है. इस सीट पर बाहुबली धनंजय सिंह जनता दल यूनाइटेड के टिकट पर चुनाव मैदान में है और इस सीट पर भी चुनाव काफी रोचक बना हुआ है.

भारतीय जनता पार्टी ने इस सीट से केपी सिंह को चुनाव मैदान में उतारा है, जबकि बहुजन समाज पार्टी ने शैलेंद्र यादव को चुनाव मैदान में उतारा है. इसके अलावा कांग्रेस पार्टी की तरफ से पुष्पा शुक्ला चुनाव लड़ रही हैं. वाराणसी की इंदिरा सीट से कांग्रेस पार्टी के पूर्व विधायक अजय राय एक बार फिर चुनाव मैदान में हैं. इस सीट से बीजेपी ने डॉ. अवधेश सिंह को चुनाव मैदान में उतारा है.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News