Friday, June 21, 2024
Homeकानपुर देहातझोपड़ी में लगी आग , गहरी नींद में सो रहा पूरा परिवार...

झोपड़ी में लगी आग , गहरी नींद में सो रहा पूरा परिवार जल कर खाक

-

शनिवार देर रात एक झोपड़ी में आग लगने से माता-पिता और उनके तीन बच्चों की जिंदा जलकर मौत हो गई. पूरी घटना रूरा थाना क्षेत्र के हारामऊ गांव में बंजारों की बड़ी बस्ती की है. जब आग लगी तो परिवार के लोग झोपड़ी में ही सो रहे थे, इसलिए वह बाहर नहीं निकल पाए. सूचना पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक परिवार के पांच लोग और पूरी गृहस्थी जलकर राख हो चुकी थी.

कानपुर देहात । शनिवार देर रात एक झोपड़ी में आग लगने से माता-पिता और उनके तीन बच्चों की जिंदा जलकर मौत हो गई. पूरी घटना रूरा थाना क्षेत्र के हारामऊ गांव में बंजारों की बड़ी बस्ती की है. जब आग लगी तो परिवार के लोग झोपड़ी में ही सो रहे थे, इसलिए वह बाहर नहीं निकल पाए. सूचना पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक परिवार के पांच लोग और पूरी गृहस्थी जलकर राख हो चुकी थी. थाना प्रभारी, सीओ और एसपी देर रात मौके पर पहुंचे और जांच-पड़ताल के बाद शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया.

एसपी कानपुर देहात बीबीजीटीएस मूर्ति ने बताया कि रूरा थाना क्षेत्र के हारामऊ गांव में बंजारों की बड़ी बस्ती है. शनिवार देर रात आग लगने से झोपड़ी में रहने वाले दंपती सतीश (30) और काजल (26) के साथ ही तीन बच्चे सनी (6), संदीप (5), गुड़िया (3) की झोपड़ी के अंदर ही जलकर मौत हो गई. चीख-पुकार सुन बस्ती के लोग दौड़े और बाल्टी से पानी डालकर आग पर काबू करने का प्रयास किया. लेकिन, तब तक दंपती और उनके तीन बच्चों की जलकर मौत हो गई थी. जबकि आग बुझाने की कोशिश में मृतक सतीश की मां गंभीर रूप से झुलस गई. सूचना पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाया. थाना प्रभारी के साथ ही सीओ और एसपी मौके पर पहुंचे.

हत्या या हादसे की जांच में जुटी पुलिस
एसपी कानपुर देहात बीबीजीटीएस मूर्ति ने कहा कि गंभीर रूप से झुलसी महिला को जिला अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. आग झोपड़ी में कैसे लगी इसकी जांच की जा रही है. जांच के दौरान कुछ भी संदिग्ध मिला तो आरोपियों को छोड़ा नहीं जाएगा. आग लगने के बाद एसपी के साथ ही फोरेंसिक टीम, डॉग स्क्वायड और पुलिस अफसर मौके पर जांच करने पहुंचे. फोरेंसिक टीम ने मौके से कई अहम साक्ष्य जुटाए. जांच में अगर कुछ भी संदिग्ध मिला तो आरोपियों के खिलाफ कठोर से कठोर कार्रवाई की जाएगी. बस्ती में मौजूद लोगों से पूछताछ और बयान भी दर्ज किए गए हैं. जिससे कि अग्निकांड की सच्चाई सामने आ सके.

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!