Saturday, February 4, 2023
spot_img
Homeदेशअमरनाथ गुफा क्षेत्र में बादल फटा : 15 तीर्थयात्रियों की मौत ,...

अमरनाथ गुफा क्षेत्र में बादल फटा : 15 तीर्थयात्रियों की मौत , 40 लापता

पवित्र अमरनाथ गुफा क्षेत्र में बादल फटने से 15 लोगों की मौत हो गई. कई तीर्थयात्री फंस गए हैं. करीब 40 तीर्थयात्री लापता हैं. मौके पर राहत-बचाव कार्य जारी है. पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने एलजी मनोज सिन्हा से हालात की जानकारी ली है. राष्ट्रपति, पीएम, गृह मंत्री समेत कई लोगों ने जान गंवाने वालों के प्रति शोक जताया है. हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं.

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले में स्थित पवित्र अमरनाथ गुफा क्षेत्र में बादल फटने से 15 लोगों की मौत हो गई. कई तीर्थयात्री फंस गए हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बादल फटने से अचानक आई बाढ़ में कम से कम तीन लंगर (सामुदायिक रसोई) और 25 यात्री तंबू बह गए. करीब 40 तीर्थयात्री लापता हैं. ऐसे में मृतकों का आंकड़ा बढ़ सकता है. प्रशासन के साथ-साथ एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की टीम राहत-बचाव कार्य में जुट गई है. पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ने एलजी मनोज सिन्हा से हालात की जानकारी ली है. हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं. फिलहाल यात्रा रोक दी गई है. अधिकारियों के मुताबिक मौसम विभाग की रिपोर्ट और अन्य स्थितियों को देखते हुए फैसला लिया जाएगा. देर रात तक बचाव कार्य जारी था.

राष्ट्रपति कोविंद ने कहा- बादल फटने की खबर से व्यथित हूं : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को कहा कि वह यह जानकर व्यथित हैं कि जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ मंदिर के पास बादल फटने से कई लोगों की मौत हो गई है. उन्होंने शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की. उन्होंने कहा कि फंसे हुए लोगों की मदद के लिए राहत और बचाव के उपाय जोरों पर हैं और उम्मीद है कि यात्रा जल्द ही फिर से शुरू होगी.

हर संभव सहायता प्रदान की जा रही : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर में अमरनाथ गुफा के पास बादल फटने पर दुख व्यक्त किया है. उन्होंने ट्वीट किया, ‘जम्मू-कश्मीर एलजी मनोज सिन्हा से बात की और स्थिति का जायजा लिया. बचाव और राहत अभियान जारी है. प्रभावितों को हर संभव सहायता प्रदान की जा रही है.’

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया ‘मैंने जम्मू-कश्मीर के एलजी मनोज सिन्हा से अमरनाथ गुफा में बादल फटने से अचानक आई बाढ़ के संबंध में बात की है. एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, बीएसएफ और स्थानीय प्रशासन बचाव कार्य कर रहे हैं. लोगों की जान बचाना हमारी प्राथमिकता है.’

जम्मू-कश्मीर के एलजी मनोज सिन्हा ने ट्वीट किया कि ‘एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, बीएसएफ, सेना, जेकेपी और श्राइन बोर्ड प्रशासन द्वारा बचाव अभियान जारी है. पीएम और एचएम से बात की और उन्हें जानकारी दी. उन्होंने हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है. तीर्थयात्रियों को सभी आवश्यक सहायता प्रदान करने के निर्देश जारी किए गए हैं. मैं स्थिति पर करीब से नजर रख रहा हूं.’

एलजी ने ट्वीट किया ‘श्री अमरनाथजी की पवित्र गुफा क्षेत्र में बादल फटने की दुर्भाग्यपूर्ण घटना में कई लोगों की जान चली गई. इस घटना से गहरा दुख हुआ है. मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त करता हूं. एनडीआरएफ, एसडीआरएफ, बीएसएफ, सेना, जेकेपी और श्राइन बोर्ड प्रशासन द्वारा बचाव अभियान जारी है.’

बचाव कार्य

आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने बताया कि पवित्र गुफा में कुछ लंगर और तंबू बादल फटने या अचानक बाढ़ की चपेट में आ गए हैं, कुछ लोगों की मौत की सूचना है. पुलिस, एनडीआरएफ और एसएफ द्वारा बचाव अभियान जारी है. घायल को इलाज के लिए एयरलिफ्ट किया जा रहा है. स्थिति नियंत्रण में है.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News