Tuesday, February 27, 2024
Homeदेशप्रधानमन्त्री मोदी का किसानों को शानदार तोहफा , किसानों के खाते में...

प्रधानमन्त्री मोदी का किसानों को शानदार तोहफा , किसानों के खाते में आएंगे 15 लाख रुपये , अभी करें अप्लाई

-

योजना के तहत क‍िसानों को 15 लाख रुपये द‍िये जाने का प्रावधान है. इसमें देशभर के किसानों को नया कृषि बिजनेस शुरू करने के लिए वित्तीय सहायता दी जा रही है.

नई दिल्ली । मोदी सरकार पीएम क‍िसान सम्‍मान न‍िध‍ि की 14वीं क‍िस्‍त जल्‍द क‍िसानों के खाते में ट्रांसफर करने वाली है. सरकार की तरफ से क‍िसानों को आर्थ‍िक रूप से सशक्‍त करने के ल‍िए तमाम योजनाएं चल रही हैं. इसी क्रम में सरकार की तरफ से किसानों को नया कृषि बिजनेस शुरू करने के लिए 15 लाख रुपये मुहैया कराया जा रहा है. आइए जानते हैं सरकार की इस योजना का फायदा आप ऑनलाइन क‍िस तरह उठा सकते हैं?

11 किसानों को मिलकर ऑर्गेनाइजेशन बनाने का प्रावधान

PM Kisan Yojana: पीएम मोदी का किसानों को शानदार तोहफा, खाते में आएंगे 15 लाख रुपये, कैसे करें अप्लाई

योजना के तहत क‍िसानों को 15 लाख रुपये द‍िये जाने का प्रावधान है. इसमें देशभर के किसानों को नया कृषि बिजनेस शुरू करने के लिए वित्तीय सहायता दी जा रही है. योजना का लाभ लेने के लिए 11 किसानों को मिलकर एक ऑर्गेनाइजेशन या कंपनी बनाने का प्रावधान है. इससे किसानों को कृषि से संबंधित उपकरण या फर्टिलाइजर्स, बीज या दवाएं खरीदने में भी आसानी होगी. योजना के तहत फॉर्मर्स प्रोड्यूसर ऑर्गेनाइजेशन को 15 लाख रुपये दिए जाएंगे.

कैसे करें आवेदन 
– सबसे पहले राष्ट्रीय कृषि बाजार की ऑफ‍िश‍ियल वेबसाइट पर जाएं.
– होम पेज पर द‍िए गए एफपीओ के ऑप्‍शन पर क्लिक करें.
– यहां ‘रजिस्ट्रेशन’ ऑप्‍शन पर क्लिक करें, अब रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलेगा.
– अब फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारियों को भरें.
– पासबुक या कैंसिल चेक एवं आईडी प्रूफ को स्कैन करके अपलोड करें.
– अब आप सब्मिट के विकल्प पर क्लिक करें.

ऐसे करें लॉग इन
– लॉगइन करने के ल‍िए सबसे पहले राष्ट्रीय कृषि बाजार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं.
– होम पेज पर द‍िए गए एफपीओ के विकल्प पर क्लिक करें.
– लॉगिन के विकल्प पर क्लिक करें और आपके सामने लॉगइन फॉर्म खुलेगा.
– इसमें यूजरनेम पासवर्ड और कैप्चा कोड दर्ज करें, इसके साथ ही लॉग इन कर लें.

सरकार का लक्ष्य
1. किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत करने के ल‍िए 2023-24 तक 10,000 एफपीओ का गठन.
2. किसानों की उत्पादकता बढ़ाने और उचित रिटर्न म‍िल सके, इसके लिए उठाया ठोस कदम.
3. नए FPO को सरकार की तरफ से 5 साल तक के लिए हैंड होल्डिंग और सहायता प्रदान करना.
4. आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनने के लिए किसानों में कृषि उद्यमिता कौशल विकसित करना.

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!