Wednesday, November 30, 2022
spot_img
Homeसोनभद्र27 मई को स्ववित्तपोषित महाविद्यालय एशोसियेशन का होगा महाकुंभ

27 मई को स्ववित्तपोषित महाविद्यालय एशोसियेशन का होगा महाकुंभ

सोनभद्र। आज सोनभद्र स्थित एक होटल में पत्रप्रतिनिधियों से वार्ता के क्रम में स्ववित्तपोषित महाविद्यालय एशोसिएशन के पदाधिकारियों ने बताया कि आगामी 27 मई को लखनऊ स्थित रवींद्रालय सभागार में प्रदेश भर के स्ववित्तपोषित महाविद्यालय के प्रबन्धको व सरकार के बीच सीधी वार्ता होनी है जिसमें स्ववित्तपोषित महाविद्यालयों के संचालन से सम्बंधित नियमावली बनाने पर बातचीत होगी।

वार्ता के दौरान एसोसिएशन के लोगो का कहना था कि राज्यपाल महोदया ने प्रदेश के सभी महाविद्यालयों से अपील किया है कि अपने कालेजो के निकट वाले आंगनबाड़ी केन्द्रों को गोद लेकर सुसज्जित करने का आवाहन किया है। राज्यपाल के उक्त अपील के आधार पर महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ प्रशासन द्वारा कानपुर की एक फर्म सिटी स्पोर्ट्स कानपुर का एकाउंट भेज सामग्री किट खरीदने के लिए दिया है। इसके लिए हम तीन महाविद्यालयों ने उसके खाते में लगभग 45 -45 हजार रुपये भेज भी दिया है । यहां आपको बताते चलें कि 19 मई को राज्यपाल का आगमन जनपद में होना है जो आंगनबाड़ी केन्द्रों को गोद लेने वाले महाविद्यालय के प्रबंधकों को प्रशस्ति पत्र देंगी। एसोसिएशन के लोगो ने कहा कि राज्यपाल ने कहा था कि केवल यूजी और पीजी साथ लेकर चलने से समाज, शिक्षा एवं शिक्षालयों का भला नही होने वला अगर समाज, शिक्षा एवं शिक्षालयों का भला करना है तो केजी और पीजी को साथ लेकर चलना पडेगा।

प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ सुधीर कुमार मिश्र ने कहा कि स्ववित्तपोषित महाविद्यालय के इतिहास में पहली बार 27 मई को सरकार और प्रबन्धक आमने सामने एक साथ बैठेगें। सोनभद्र से भी दर्जनों कालेजों के प्रबन्धक शामिल होगें। राज्यपाल के आवाहन पर जिले के कालेजों के प्रबन्धक भी एक -एक आंगनबाड़ी केन्द्र को गोद लेगें।

27 मई को उत्तर प्रदेश स्ववित्तपोषित महाविद्यालय एसोसिएशन (T) लखनऊ के प्रदेश अध्यक्ष डा०आर०जे० सिंह चौहान के नेतृत्व में उ०प्र० सरकार के उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक की अध्यक्षता में उच्च शिक्षामंत्री योगेन्द्र उपाध्याय मुख्य अतिथि होगें तथा अति विशिष्ट अतिथि बेसिक शिक्षामंत्री संदीप कुमार सिंह होगें एवं विशिष्ट अतिथि शिक्षक एवं स्नातक निकाय के दर्जनों सदस्य विधान परिषद व स्थानीय निकाय के नौ नवनिर्वाचित सदस्य विधान परिषद के साथ राजभवन के सामने विश्वसरैया सभागार लोक निर्माण विभाग मुख्यालय लखनऊ में एक विशाल सम्मान समारोह का आयोजन किया गया है।
जिसमें स्ववित्तपोषित महाविद्यालयों के उत्थान हेतु दर्जनों समस्यायों पर मांग पत्र भी सौपा जाएगा।

उक्त विशाल सम्मान समारोह में पूरे प्रदेश से लगभग 1000 से अधिक प्रबन्धको के पहुंचने की उम्मीद है, जिसमें सोनभद्र से भी अधिक संख्या में प्रबन्धक लखनऊ पहुचेगें। स्ववित्तपोषित महाविद्यालय के इतिहास मे पहली बार इतने बड़े स्तर पर प्रबन्धक और सरकार एक साथ बैठ कर स्ववित्तपोषित महाविद्यालयों के उत्थान एवं संचालन आने वाली कठिनाइयों चर्चा करेगें एवं समस्यायों पर मॉग पत्र प्रदेश अध्यक्ष डा० आर०जे० सिंह चौहान के नेतृत्व में उप मुख्यमंत्री बृजेश पाठक, उच्च शिक्षामंत्री व बेसिक शिक्षामंत्री को दिया जाएगा।

उसी दिन उत्तर प्रदेश स्ववित्तपोषित महाविद्यालय एसोसिएशन (T) लखनऊ का विस्तारिकरण कर राष्ट्रीय स्ववित्तपोषित महाविद्यालय एसोसिएशन (T) कर दिया जाएगा तथा राष्ट्रीय कार्यकारिणी का गठन भी होगा। उक्त के समर्थन में उत्तराखंड, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़,मध्य प्रदेश, गुजरात, राजस्थान, पंजाब, हरियाणा, महाराष्ट्र प्रदेशो स्ववित्तपोषित महाविद्यालय एसोसिएशन के पदाधिकारी लखनऊ पहुंच रहे है।

वार्ता के दौरान एसोसिएशन के पदाधिकारियों का कहना था कि जिले में मुख्यमंत्री की महत्वाकांक्षी टेबलेट योजना को पलीता लगाया जा रहा है क्योकि एमए के छात्रों को टैबलेट दिया जा रहा है जबकि बीए के छात्रों को नही दिया जा रहा है। वही अन्य जनपदों में बीए के छात्रों को भी टेबलेट दिया गया लेकिन यहां ऐसा नही किया जा रहा है।




Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News