Saturday, February 4, 2023
spot_img
Homeसोनभद्रस्वतत्रंता आन्दोलन के स्मारकों और स्थलों पर साफ-सफाई एंव आवश्यक अन्य व्यवस्थाये...

स्वतत्रंता आन्दोलन के स्मारकों और स्थलों पर साफ-सफाई एंव आवश्यक अन्य व्यवस्थाये की जाये सुनिश्चित – सी. डी. ओ.

सोनभद्र ।आजादी के अमृत महोत्सव धुम धाम और हर्षोउल्लास के साथ मनाये जाने के सम्बन्ध में मुख्य विकास अधिकारी ने अधिकारियों के साथ बैठक की इस दौरान उन्होने उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद में स्वतत्रंता आन्दोलन के स्मारकों और स्थलों की साफ-सफाई और अन्य व्यवस्थायें एक सप्ताह के अन्दर सुनिश्चित की जायें।

इस दौरान उन्होने स्वतत्रंता आन्दोलन जुड़ें प्रमुख स्थल ग्राम परासी दूबे स्थित सहित उद्यान के सर्वागींण विकास हेतु उन्होने विभागीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि शहीद उद्यान के पास स्थित तालाब को अमृत सरोवर के रूप मे विकसित किया जाये।

नागरिकों एंव पर्यटकों को सुविधा के लिए शौचालय का निर्माण एंव शहीद उद्यान का विद्युतीकरण, उद्यान स्थित सभागार की पेंटिग, उद्यान में पौधरोपण और मुख्य सड़क पर साइन बोर्ड की पेंटिग सहित आवश्यक कार्यो के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया।

उन्होने जिला बेशिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया की स्कूली बच्चों में देश प्रेम की भावना और गौरवशाली इतिहास से परचित कराने के लिए शहीद स्मारक स्थल का भ्रमण कराया जायें।

राबर्टसगंज घोरावल मुख्य मार्ग पर 5 किलो मीटर पर स्थित शहीद उद्यान स्वतंत्रता का प्रमुख केन्द्र था, अविभाजित मिर्जापुर का सन 1941 का व्यक्तिगत सत्याग्रह आन्दोलन व 1942 की महाक्रांति इसी स्थान से प्रारम्भ हुयी थी। 1921 के सविनय अवज्ञा आन्दोलन, 1930 के नमक कानून का भंग किया जाना सहित आजादी के आन्दोलन की कई बैठकें, आन्दोलन इसी स्थान से सम्पन्न हुये।

21 अप्रैल 1991 को जिला प्रशासन द्वारा इसके ऐतिहासिक महत्व को देखते हुये जनपद का शहीद उद्यान घोषित किया गया था, जहाॅ स्थापित गौरव स्तंभ पर जिले के सभी सेनानियों के नाम उत्कीर्ण है। मुख्य विकास अधिकारी ने जिला विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि उन गाॅवों के तालाबों को अमृत सरोवर के रूप में विकसित को जिस गाॅव में सेनानी का घर है हो या वहाॅ कोई आजादी का स्मारक हो।

उन्होने सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि प्रत्येक विकास खण्ड में स्थापित प्रस्तर स्तम्ंभ के पास साफ-सफाई रंग-रोगन की व्यवस्था सुनिश्चित करायें। उन्होनें कहा कि अजादी के इस अमृत महोत्सव को पूरे जनपद में हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाये और जनपद के सभी लोग अपने घर पर इस आजादी अमृत महोत्सव पर 11 अगस्त से 17 अगस्त तक तिरंगा झण्डा लगाकर अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें।

बैठक में जिला विकास अधिकारी शेषनाथ चैहान, जिला बेशिक शिक्षा अधिकारी हरीवंश कुमार, जिला पंचायत राज अधिकारी श्री विशाल सिंह, अधिशासी अभियन्ता विद्युत श्री सर्वेश सिंह, अपर जिला सूचना अधिकारी श्री विनय कुमार सिंह सहित सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहें।

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News