Saturday, May 18, 2024
Homeउत्तर प्रदेशसोनभद्रसोनभद्र में एम्स व केंद्रीय विश्वविद्यालय की हो स्थापना - पूर्वांचल...

सोनभद्र में एम्स व केंद्रीय विश्वविद्यालय की हो स्थापना – पूर्वांचल राज्य जनमोर्चा

-

सोनभद्र । सोनभद्र अलग पूर्वांचल राज्य की मांग कर रहे संगठन पूर्वांचल राज्य जनमोर्चा की एक बैठक निराला नगर, उत्तर प्रदेश ग्रामीण भूमि विकास बैंक के प्रांगण, रॉबर्टसगंज सोनभद्र में एक बैठक हुई , जिसमें सोनभद्र में एम्स उच्च स्तरीय चिकित्सा संस्थान व केंद्रीय विश्वविद्यालय स्थापना की मांग हुई ।

बैठक में बोलते हुए संगठन के राष्ट्रीय महासचिव एड पवन कुमार सिंह कहा कि केन्द्र सरकार से सोनभद्र में भी अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की स्थापना कराये जाने की मांग की है ‌। उन्होंने कहा कि सोनभद्र से सटे बिहार,झारखंड ,छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश राज्य हैं यहां के आदिवासी, बनवासी एवं ग्रामीण अंचलों के पिछड़ेपन और उपरोक्त आबादी को ध्यान में रखते हुए भी एम्स की स्थापना जरूरी है ।

इस दिशा में सकारात्मक पहल कि आवश्यकता है । सोनभद्र से सटे जनपदों मूलतः पहाड़ी व आदिवासी क्षेत्र हैं जो कि लगभग सैकड़ों किलोमीटर क्षेत्र में फैला हुआ है । “एम्स” की स्थापना हो जाने से सोनभद्र तथा सोनभद्र से सटे प्रदेशों की जनता को महंगे इलाज कराने के लिए निजी अस्पतालों में नहीं जाना पड़ेगा।

लोगों को एम्स में ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर की स्वास्थ्य सुविधाएं आसानी से सस्ते दामों में उपलब्ध होंगी। यहां के लोग मूलभूत चिकित्सा सेवाओं से कोसों दूर हैं ऐसी स्थिति में सोनभद्र में एम्स स्थापित किये जाने की ज्यादा जरूरत पूर्वांचल के सोनभद्र में है ।क्योंकि एम्स भारतवर्ष में कम खर्च पर बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने वाला अस्पतालों का एक समूह है जिसकी स्थापना पहले नई दिल्ली में 1956 में की गई थी ।

इस पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर स्थापित सबसे पहले एम्स की सफलता के बाद इसे पूरे देश में स्थापित करने की शुरुआत हुई ऐसे अस्पतालों में कैंसर ,किडनी तथा हृदय ट्रांसप्लांट जैसी विशिष्ट सुविधाएं निजी अस्पतालों की तुलना में नाम मात्र के खर्च में उपलब्ध होती है यहां मिलने वाली गुणात्मक सुविधाओं की ही वजह से उसमें इलाज करवाने देश के प्रधानमंत्री राष्ट्रपति से लेकर अन्य गणमान्य जन अक्सर इलाज करवाने जाते रहते हैं ।

राष्ट्रीय प्रवक्ता संदीप जायसवाल ने कहा कि। सोनभद्र में केंद्रीय विद्यालय स्थापित होने से आजादी के बाद शिक्षा से वंचित लोगों को शिक्षा के लिए दूर नहीं जाना पड़ेगा ! “एम्स” व केंद्रीय विश्वविद्यालय स्थापित करने के लिए मोर्चा द्वारा 5 सदस्यीय टीम का गठन किया गया है जिसमें जिसमें पत्रकार बृजेश कुमार पाठक, अधिवक्ता ईश्वर जायसवाल, समाजसेवी आनंद ओझा व राजकुमार सिंह व काकू सिंह बनाए गए हैं जो स्तर पर वार्ता कर एवं ज्ञापन के माध्यम से सोनभद्र में एम्स स्थापित करने हेतु मांग करेंगे ।

इस अवसर पर शिव प्रकाश चौबे, नवीन पांडेय,अतुल कुमार कनौजिया, राजकुमार गौतम, अतीश कुमार, राज कुमार सिंह ,दिलीप कुमार सिंह, दीप नारायण पटेल, आनंद कुमार ओझा आदि लोग उपस्थित थे

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!