Monday, August 15, 2022
spot_img
Homeसोनभद्रसमाज के अंतिम पायदान के व्यक्तियों तक विधिक सुविधाएं पहुचाना ही होगा...

समाज के अंतिम पायदान के व्यक्तियों तक विधिक सुविधाएं पहुचाना ही होगा उदेश्य – विनय कुमार सिंह

सोनभद्र । आज सचिव पूर्णकालिक जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सोनभद्र के पद पर विनय कुमार सिंह ने कार्यभार ग्रहण किया। पद ग्रहण करने के उपरांत उन्होंने कहा कि जनपद सोनभद्र वन पहाड़ व भौगोलिक संरचना ही जनपद की मूल भूत पहचान है संरक्षित रखने में जो भी विधिक प्रक्रिया होगी लागू की जाएगी । खान खनन व जंगलों की कटानो स्थापित औद्योगिक इकाइयों से हो रहे पर्यावरण की क्षति को दृष्टिगत रखते हुए एम सी मेहता बनाम यूनियन ऑफ़ इंडिया में माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए गए सिद्धांतों का अनुपालन कराया जाएगा ।

राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का संबंधित को उक्त का अनुपालन किए जाने का निर्देश दिया जाएगा। इसके अतिरिक्त स्कूल/ कालेजों/ जिला अस्पताल एवं ऐसी सहकारी संस्थाएं जिसमे पठन-पाठन का कार्य संपादित किया जाता है वह किसी के विधिक अधिकारों का अतिक्रमण न हो इस पर बल दिया जाएगा साथ में यह भी सुझाव दिया जायेगा कि राजमार्ग के निर्माण में जितने भी जंगलो के पेड़ों की कटान की गई हैं इसके बाबत वन विभाग से संबंधित अधिकारियों से सूचना प्राप्त किया जाएगा उतने पेड़ो को लगाना सुनिश्चित किया जाएगा ।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा नियुक्त पैनल अधिवक्ता ,जेल विजिटर मीडिएटर, पीएलवी को भी निर्देशित किया गया कि अपने अपने कार्यो का निर्वहन नियमित रूप से करें अपने कार्य वृति को माह के प्रथम सप्ताह तक जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यालय में जमा करना सुनिश्चित करें।

साथ ही उन्होंने बताया कि जिला जिला कारागार में तैनात पीएलबी को निर्देशित किया गया कि जेल में निरुद्ध बंदियों के साथ हो रहे व्यवहार तथा उनके विधिक अधिकारों की सुरक्षा के लिए प्रत्येक माह में अपनी आख्या जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यालय में कारागार अधीक्षक के माध्यम से जमा कर दे।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण का मुख्य उद्देश्य समाज मे रहे रहे अंतिम पायदान के अंतिम व्यक्ति विधिक सेवा पहुचाना ही उद्देश्य है।

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News