Monday, August 15, 2022
spot_img
Homeलीडर विशेषनगरपालिका क्षेत्र में औधे मुँह गिरा सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त अभियान

नगरपालिका क्षेत्र में औधे मुँह गिरा सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त अभियान

सफाई अभियान में शिथिलता की वजह से चोक नालियों का पानी बह रहा बस्ती व सड़को पर

–नगरपालिका प्रशासन का फरमान यदि दुकानों के सामने सिंगल यूज प्लास्टिक मिला तो लगेगा दो हजार रुपए का जुर्माना

–नगरपालिका अध्यक्ष ने कहा व्यवसायी सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त अभियान व नगर की सफाई व्यवस्था को दुरुस्त रखने में नहीं कर रहे सहयोग

–सुबह सड़को व नगर क्षेत्र में झाडू लगने व कूड़ा उठाने के बाद अपने दुकान के कूड़े जिसमे प्लास्टिक भी होता है ,को सड़क पर फेंक देने की वजह से

सोनभद्र। जिलाधिकारी सोनभद्र एक अनूठी पहल कर जिले को सिंगल यूज प्लास्टिक से मुक्त करने का अभियान मेरा प्लास्टिक मेरी जिम्मेदारी चलाये हुए हैं जिसके सार्थक परिणाम सामने आ रहे हैं।जिले की ग्राम पंचायतों में यह अभियान कुछ ही समय मे इतना लोकप्रिय हो गया है कि लोग अपने घरों के आसपास की प्लास्टिक को बीनकर एक जगह इकट्ठा कर अपने गांव को प्लास्टिक मुक्त कर देना चाहते हैं।

यहां आपको बताते चलें कि सिंगल यूज प्लास्टिक हमारी जिंदगी के हर काम में इस तरह घुल मिल गया था कि इससे छुटकारा मिलना आसान नहीं लग रहा था पर जिलाधिकारी के इस अनूठे जागरूकता कार्यक्रम में जिस तरह से इससे होने वाले पर्यावरणीय नुकसान व उससे मानव जीवन पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव के प्रति लोगों को सचेत किये जाने से आम जन में सिंगल यूज प्लास्टिक के प्रति जो जागरूकता आयी है वह पूरे देश के लिए मिसाल बन गयी है।

यहां आपको बताते चलें कि जहां एक तरफ गाँव में प्लास्टिक के प्रति इतनी जागरूकता है वहीं दूसरी तरफ जिले की एक मात्र नगरपालिका क्षेत्र में चट्टी चौराहे पर प्लास्टिक मुक्त अभियान के बड़े बड़े बोर्ड लगाकर नगरपालिका प्रशासन अपने कर्तव्यों की इतिश्री कर लिया है। नगर पालिका परिषद की नालियां प्लास्टिक की वजह से चोक होने की नालियों की गंदगी सड़कों व बस्ती में बहने की वजह से लोगों को आवागमन सहित अन्य समस्याओ से बराबर जूझना पड़ रहा है।

उक्त विषय पर नगरपालिका अध्यक्ष ने बातचीत के दौरान बताया कि एक तो नगरपालिका क्षेत्र की अनियमित व बिना प्लानिंग के बसावट व दूसरे नगर के व्यवसायियों द्वारा सफाई अभियान में सहयोग न करने के कारण यह समस्या बनी हुई है।आगे उन्होंने बताया कि नगरपालिका क्षेत्र में सुबह झाड़ू लगने के बाद इकट्ठा हुए कूड़े को फेकने के बाद दुकानों से निकले कूड़े जिसमे प्लास्टिक भी होता है को सड़क पर फेंक देने से वह दिन में धीरे धीरे नालियों में पहुंच जाता है जिसकी वजह से नालियां चोक हो जा रही हैं।

उन्होंने बताया कि आज नगरपालिका कर्मचारियों को आदेश दिया गया है कि झाड़ू लगने के बाद जिस भी दुकान के सामने प्लास्टिक युक्त कचरा मिले उस दुकानदार पर दो हजार रुपए का जुर्माना तथा जो भी प्लास्टिक के थैले में सामान देते मिले उसपर पांच हजार रुपये का जुर्माना लगाया जाय।हो सकता है नगरपालिका के इस कड़े कदम के बाद प्लास्टिक मुक्त अभियान को तेजी मील फिलहाल तो सिंगल यूज प्लास्टिक नगरपालिका क्षेत्र में कहीं दिख नहीं रहा है।




Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News