Thursday, June 20, 2024
Homeबिग ब्रेकिंगएसओजी व रॉबर्ट्सगंज पुलिस ने दो अंतर्राज्यीय तस्करों सहित 338 किलो गांजे...

एसओजी व रॉबर्ट्सगंज पुलिस ने दो अंतर्राज्यीय तस्करों सहित 338 किलो गांजे की खेप पकड़ी

-

एसओजी टीम व रॉबर्ट्सगंज पुलिस द्वारा मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले अन्तरप्रान्तीय गैंग के 02 अभियुक्तों को 338 किलो (3 कुन्तल 38 किलो) मादक पदार्थ गांजा (कीमती लगभग 50 लाख रुपये) के साथ किया गया गिरफ्तार।

सोनभद्र। पुलिस अधीक्षक, डॉ यशवीर सिंह के निर्देशन में व अपर पुलिस अधीक्षक (मुख्यालय) व क्षेत्राधिकारी नगर के पर्यवेक्षण में मादक पदार्थों की तस्करी पर प्रभावी अंकुश लगाने हेतु चलाये जा रहे अभियान के तहत आज थाना रॉबर्ट्सगंज व एसओजी टीम के अथक प्रयास से कूटरचित नम्बर प्लेट (UP35ST5758) लगी एक पीकप से मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले अन्तरप्रान्तीय गैंग के 02 अभियुक्तों को 338 किलोग्राम (3 कुन्तल 38 किलो) मादक पदार्थ गांजा (कीमत लगभग 50 लाख रुपये) के साथ गिरफ्तार करने में सफलता मिली। उक्त गिरफ्तारी व बरामदगी के सम्बन्ध में थाना रॉबर्ट्सगंज पर मु0अ0सं0 143/ 2023 धारा 8/20 NDPS Act व धारा 420, 467, 468, 471 भादवि का अभियोग पंजीकृत कर विधिक कार्रवाई करते हुए जेल भेजा जा रहा है।

घटना का संक्षिप्त विवरण – मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर थाना रॉबर्ट्सगंज पुलिस व एसओजी टीम द्वारा रॉबर्ट्सगंज शक्तिनगर मार्ग पर लोढ़ी टोल प्लाजा के पहले से कुटरचित नम्बर प्लेट (UP35ST5758) लगे पीकप के ड्राइवर सीट के पीछे बनी एक बड़ी रैक से 73 बन्डलों में कुल 338 किलोग्राम (03 कुन्तल 38 किलो) मादक पदार्थ गांजा बरामद कर दो अभियुक्तगणों को गिरफ्तार किया गया।

पूछताछ करने पर गिरफ्तार अभियुक्तगणों द्वारा बताया गया कि यह गांजा हम दोनो को चिन्टू हरिजन पुत्र विरेन्द्र हरिजन निवासी इन्द्रावती, थाना रावतीगुडा, जिला नौरंग उड़िसा व चन्द्रमा राय पुत्र अज्ञात, निवासी कोनहला गोपालगंज में बनारस पहुंचाने के लिए 50000 रुपये में तय करके भेजा है। इस गाड़ी का असली नम्बर CG05D1806 है जो पीरखान पुत्र गुलाब खान, निवासी C/O मोहम्मद इकबाल खोखर वार्ड नं0-4 सुन्दरगंज तेलीपारा धमतारी उड़िसा की है। हम दोनों उड़िसा से छत्तीसगढ़ तक इस पीकप पर गाड़ी मालिक पीरखान, चिन्टू हरिजन व चन्द्रमा राय के बताये व सिखाये अनुसार पीकप पर कुटरचित नम्बर प्लेट OD10B6684 लगाकर चल रहे थे तथा छत्तीसगढ़ में कुटरचित नम्बर प्लेट OD10B6684 को निकालकर फेक दिये तथा यूपी का कुटरचित नम्बर प्लेट UP35ST5758 लगाकर आ रहे थे तथा इन्टरनेट से इन दोनों कुटरचित रजिस्ट्रेशन नम्बरों का RC अपने मोबाइल में लेकर रख लिये थे ताकि पुलिस कहीं पुछे तो RC दिखा सकें। गाड़ी के ढाले के अगले भाग में ड्राइवर सीट के पीछे एक बड़ी रैक बना रखी है जिसमें हम लोग गांजे के पैकेट छिपाकर रखते हैं।

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!