Saturday, January 22, 2022
Homeराजनीतिवाराणसी में PM के दौरे से पहले सियासत तेज , कांग्रेस ने...

वाराणसी में PM के दौरे से पहले सियासत तेज , कांग्रेस ने की जनसभा बहिष्कार करने की अपील

ईमानदार और निड़र पत्रकारिता के हाथ मजबूत करने के लिए विंध्यलीडर के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब और मोबाइल एप को डाउनलोड करें

वाराणसी एक बार फिर से सियासत का केंद्र बन गया है. कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी 25 अक्टूबर को अपने पूर्व प्रस्तावित दौरे पर यहां आ रहे हैं. ऐसे में अब कांग्रेस काशी वासियों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे के दौरान होने वाली जनसभा का बहिष्कार करने की अपील कर रही है.

वाराणसी । देश की राजनीति में वाराणसी एक बार फिर से सियासत का केंद्र बन गया है. कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी 25 अक्टूबर को अपने पूर्व प्रस्तावित दौरे पर यहां आ रहे हैं. ऐसे में अब कांग्रेस काशी वासियों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दौरे के दौरान होने वाली जनसभा का बहिष्कार करने की अपील कर रही है.

यहां होगा पीएम मोदी का कार्यक्रम

दरअसल, प्रधानमंत्री राजातालाब के मेहंदीगंज स्थित कल्लीपुर में एक बड़ी जनसभा को संबोधित करेंगे. जनसभा में पीएम मोदी कई योजनाओं व परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन करेंगे. पीएम के जनसभा के लिए जिस जमीन की तलाश की गई है, उस पर सियासत तेज हो गई है. कांग्रेस ने हमला करते हुए जनता से अपील की है कि इस जनसभा में न जाए.

अपने पूर्व प्रस्तावित दौरे पर वाराणसी आ रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेहंदीगंज के कल्लीपुर इलाके में एक जनसभा को संबोधित करेंगे, जिसके लिए प्रशासन ने 11 हेक्टेयर के आसपास जमीन तलाशी है और इसमें 108 किसानों के फसल का मुआवजा लगभग 8 लाख रुपये दिए जा रहे हैं.

किसानों का कहना है कि हम लोगों को 30000 पर बीघा देने की बात की गई थी, पर उससे कम रुपये दिए जा रहे हैं. किसानों ने बताया की खेत में से मिट्टी निकालने का भी काम किया जा रहा है. इस विषय पर जब पूछताछ की गई तो बताया कि मिट्टी को वापस खेत में कार्यक्रम के खत्म होने के बाद डाल दिया जाएगा.

कांग्रेस नेता अजय राय ने पीएम मोदी के कार्यक्रम पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रियंका गांधी की रैली को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां जनसभा के लिए आ रहे हैं. हम लोगों ने प्रियंका जी का स्कूल कालेजों के जमीन पर कार्यक्रम किया था. किसी भी किसान का एक बिस्सा भी जमीन नहीं लिया गया. हम लोगों से अपील करेंगे कि इस कार्यक्रम में न जाए और इसका बहिष्कार करें.

यहां होगा पीएम मोदी का कार्यक्रम

पूरे मामले में जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि कुछ लोगों ने ट्वीट कर अफवाह फैलाने की कोशिश की है कि किसानों की फसल नष्ट करके पीएम का कार्यक्रम हो रहा है. इस बारे में स्थिति कल ही स्पष्ट कर दी गई थी कि जिस जमीन पर कार्यक्रम होने जा रहा है. उसका बकायदा फसल मूल्य किसानों को दिया जा रहा है.

वहीं, जहां जमीन छांटे गए हैं. वहां पहले से ही 1-2 खेत कटने शुरू हो गए थे. जनपद वाराणसी में धान खरीद एक तारीख से शुरू होती है. ऐसे में 1 नवंबर से केवल 12 दिन पहले यह फसल खरीदी गई है. इसका जो मुआवजा है, उसे भी सरकारी क्रय रेट 1940 रुपये व एमएसपी के हिसाब से प्रोडक्टिविटी 40.5 कुंतल प्रति हेक्टेयर की होती है. प्रोडक्टिविटी से गणना करते हुए सभी भू स्वामियों को पैसे दी गई है.

डीएम शर्मा ने आगे बताया कि जो लोग अफवाह फैला रहे हैं कि जबरदस्ती किसानों की फसल नष्ट की गई है. वे पूरी तरह से गलत है. ऐसे लोगों पर विधिक कार्रवाई करने की भी तैयारी की जा रही है. पूरी फसल 800000 का बना है, जिसका चेक के माध्यम से पेमेंट हो रहा है. अभी तक किसानों को पेमेंट दे दी गई है. कुल 11 हेक्टेयर की भूमि पर कार्यक्रम हो रहा है.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Share This News