Tuesday, May 21, 2024
Homeअंतर्राष्ट्रीयनाइजीरिया में भड़की सांप्रदायिक हिंसा , दो गुटों के बीच खूनी झड़प...

नाइजीरिया में भड़की सांप्रदायिक हिंसा , दो गुटों के बीच खूनी झड़प , 30 लोगों की मौत

-

मिडिल नाइजीरिया में मंगलवार को चरवाहों और किसानों के बीच खूनी झड़प हुआ. इस खूनी झड़प में 30 से अधिक लोग मारे गए हैं.

नाइजीरिया । मिडिल नाइजीरिया में मंगलवार को चरवाहों और किसानों के बीच खूनी झड़प हुई. इस खूनी झड़प में 30 से अधिक लोग मारे गए हैं. इस बात की जानकारी एक स्थानीय अधिकारी ने दी.

नाइजीरिया में ज्यादातर मुस्लिम नॉर्थ क्षेत्र में रहते है, जबकि ईसाई धर्म के लोग साउथ में रहते है. इन दोनों समुदाय के बीच विभाजन को लेकर अक्सर लड़ाई होते रहती है. यहां सालों से लोग जातीय और धार्मिक हिंसा से जूझ रहे हैं.

हिंसा मंगू जिले के बवोई में हुई
मिडिल नाइजीरिया के सूचना और संचार आयुक्त डैन मंजांग ने एएफपी को बताया कि इस घटना में 30 लोगों की मौत हुई है और कई लोग घायल हुए है. उन्होंने कहा कि चरवाहों और किसानों के बीच झड़प हुई. इसमें चरवाहे मुस्लिम थे और किसान ईसाई धर्म के थे.

पुलिस ने कहा कि हिंसा मंगू जिले के बवोई के अलग-अलग गांवों में हुई. मिडिल नाइजीरिया पुलिस प्रवक्ता अल्फ्रेड अलाबो ने कहा कि हमें लगभग दिन के वक्त 11:56 मिनट पर एक इमरजेंसी कॉल आया, जिसमें हमें जानकारी दी गई की गोलीबारी हुई है. 

हिंसा के पीछे चरवाहों को दोषी ठहराया
घटना के बाद सुरक्षा अधिकारियों को उस क्षेत्र में तैनात किया गया है और 24 घंटे का कर्फ्यू लगाया है, जहां हुडलूम्स लोग है. हुडलूम्स एक स्थानीय शब्द, जिसका इस्तेमाल अपराधियों के लिए किया जाता है. उत्तर पश्चिम और मीडिल नाइजीरिया में अक्सर मर्डर, सामूहिक अपहरण और लूटपाट की घटना होती रहती है.

यहां अक्सर भारी हथियारों से लैस गिरोह गांवों को लुटने का काम करते है. इसी साल अप्रैल के महीने में करीब 50 लोग मारे गए थे जब बंदूकधारियों ने पड़ोसी बेन्यू राज्य के एक गांव पर हमला किया था. स्थानीय अधिकारियों ने हिंसा के पीछे चरवाहों को दोषी ठहराया, जिन पर किसानों ने आरोप लगाया कि उनके मवेशी अक्सर हमारे खेतों को नष्ट कर देते हैं.

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!