Thursday, June 20, 2024
HomeदेशSonbhadra News: एनटीपीसी परिसर में दीवार गिरने से महिला मजदूर की मौत...

Sonbhadra News: एनटीपीसी परिसर में दीवार गिरने से महिला मजदूर की मौत , NTPC के चार अफसरों पर FIR का आदेश

-

Sonbhadra News: एनटीपीसी परिसर में महिला मजदूर की मौत के मामले में नया मोड़ सामने आया है। मामले में एनटीपीसी के चार अफसरों और ठेकेदारों पर एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं।

सोनभद्र । जनपद के शक्तिनगर स्थित एनटीपीसी की मदर यूनिट सिंगरौली थर्मल पावर प्रोजेक्ट के विस्तार के लिए ढहाए जा रहे आवासों के दौरान दिवार ढहने से एक महिला मजदूर की मौत मामले में नया मोड़ आ गया है। विशेष न्यायाधीश (एससी/एसटी) एक्ट आबिद शमीम की अदालत ने धारा 156 (3) सीआरपीसी के तहत दाखिल प्रार्थना पत्र पर सुनवाई करते हुए, प्रकरण को प्रथम दृष्ट्या गंभीर मामला माना है और आवेदन में उल्लिखित तथ्यों को दृष्टिगत रखते हुए एनटीपीसी के एजीएम, एचआर सहित चार अफसरों और संबंधित ठेकेदार के खिलाफ एफआईआर का आदेश पारित किया है।मामले में प्रभारी निरीक्षक शक्तिनगर को प्रार्थना पत्र में वर्णित तथ्यों के आधार पर मामला दर्ज करके संबंधित पुलिस अधिकारी से मामले की विवेचना करने और विवेचना के परिणाम से न्यायालय को अवगत कराने का आदेश दिया गया है।

बिना चेतावनी के गिरा दी गई थी दीवार

सीमावर्ती मध्यप्रदेश के सिंगरौली जिला अंतर्गत चितरंगी थाना क्षेत्र के खोखवागांव निवासी बाबादीन गोड़ ने न्यायालय में प्रार्थना पत्र दाखिल कर अपनी मां हीरामती के मृत्यु के लिए ठेकेदार अनिल राय, संपदा अधिकारी असीम शेखर सिंह, एजीएम एचआर सिद्धार्थ मण्डल, वरिष्ठ प्रबंधक पवन पांडेय तथा सहायक मैनेजर रमाकान्त साहू को दोषी ठहराया था और उनके खिलाफ एफआईआर का आदेश दिए जाने की याचना की थी। प्रार्थना पत्र के जरिए उसका कहना था कि उसकी मां हीरामती की मृत्यु एनटीपीसी के सहायक मैनेजर रमाकान्त साहू को दोषी ठहराया था और उनके खिलाफ एफआईआर का आदेश दिए जाने की याचना की थी। प्रार्थना पत्र के जरिए उसका कहना था कि उसकी मां हीरामती की मृत्यु एनटीपीसी के उच्चाधिकारियों के जबरन कृत्य के चलते दीवार गिराए जाने से दब कर हो गई। छह फरवरी 2024 की सुबह साढ़े नौ बजे हुई घटना का जिक्र करते हुए बताया गया कि उसकी मां मजदूर थी। वह मजदूरी करने के लिए अनिल राय के बुलाने पर ज्यालामुखी कालोनी में गई थी। उसी समय आरोपी पक्ष की ओर से यह जानते हुए कि मजदूरों के द्वारा कार्य किया जा रहा है, दीवार को जबरन बिना किसी चेतावनी के जेसीबी से धक्का मरवा कर गिरवा दिया गया।

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!