Thursday, December 8, 2022
spot_img
Homeसोनभद्रनिकासी अवधि समाप्त होने के बाद भी मिलीभगत से निर्माण स्थल से...

निकासी अवधि समाप्त होने के बाद भी मिलीभगत से निर्माण स्थल से उठाया जा रहा बोल्डर,सरकार के राजस्व को लग रहा चूना, जिम्मेदार हैं मौन

सोनभद्र। चुर्क में निर्माणाधीन मेडिकल कालेज के निर्माण के दौरान खुदाई से एकत्रित बोल्डर की नीलामी खनन विभाग द्वारा की गई। नीलामी में शर्त यह थी कि बोलीदाता को नीलामी आदेश निर्गत होने के एक महीने के भीतर बोल्डर की ढुलाई कर ली जाय।मिली जानकारी के मुताबिक उक्त पत्थर की नीलामी के बाद उक्त उत्खनित पत्थर ढुलाई हेतु बोलीदाता को खनन विभाग द्वारा मिले आदेश के मुताबिक 21 अप्रैल से 20 मई तक ही बोल्डर अथवा पत्थर ढुलाई का आदेश निर्गत था।

परन्तु बताया जा रहा है कि उक्त ठेकेदार द्वारा ठेके की अवधि 20 मई को ही समाप्त होने के बावजूद 22 मई रविवार को निर्माणाधीन मेडिकल के पास वहाँ से निकले पत्थर को इकट्ठा किये गए स्थल से हाइवा से बोल्डर ढोता दिखाई दिया तो कुछ स्थानीय लोगों ने इसे रोक लिया और ड्राइवर से पूछताछ करने लगे । जिसके बाद मामला गरमाता देख ड्राइवर गाड़ी छोड़ फरार हो गया ।

यहां गौर करने वाली बात यह है कि जिस हाइवा से बोल्डर ढोया जा रहा था, उस पर कोई नम्बर प्लेट ही नहीं था यानी प्रशासन को भी यह पता नहीं चल सकेगा कि गाड़ी मालिक कौन है ।
चर्चा यह है कि इस खेल के पीछे किसी सफेदपोश का हाथ है, जो पर्दे के पीछे रह कर खेल खेल रहा है ।

बहरहाल बड़ा सवाल यह है कि आखिर जब निविदा का समय समाप्त हो गया है तो किसके आदेश से बोल्डर का उठान हो रहा है। और फिर जब बोल्डर का उठान हो रहा था तो स्थानीय गार्ड क्यों नहीं रोका ?क्योकि उक्त स्थल पर तो चौबीसों घण्टे गार्ड तैनात रहते हैं।और जब खनिज विभाग से उक्त मेडिकल कालेज निर्माण से निकले पत्थरों की निकासी हेतु नीलामी की गयी होगी तो एक प्रति मेडिकल कालेज निर्माण में लगी कार्यदायी संस्था को भी गयी होगी जिसमें निकासी की अंतिम तिथि भी अंकित रही होगी,ऐसी दशा में उक्त निर्माण एजेंसी के सामानों की रखवाली में लगे गार्ड आदि की चुप्पी भी संदेह के दायरे में प्रतीत होती है।

उक्त के सम्बंध में बात करने पर खान अधिकारी ने कहा कि मैं जिले से बाहर हूँ इसलिए यह तो नहीं बता सकता कि उक्त बोल्डर की निकासी हेतु कब तक की तारीख तय है। फिलहाल यदि नियत तिथि के बाद भी बिना वैध आदेश के पत्थर निकासी हो रही है तो उक्त के सम्बंध में जानकारी करवा कर किसी को भेजकर कार्यवाही करवाता हूँ।अब देखना होगा कि क्या कार्यवाही होती है।




Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News