Saturday, January 22, 2022
HomeUncategorizedइत्र कारोबारी पीयूष जैन के घर छापेमारी खत्म , अब तक की...

इत्र कारोबारी पीयूष जैन के घर छापेमारी खत्म , अब तक की सबसे बड़ी रिकवरी

ईमानदार और निड़र पत्रकारिता के हाथ मजबूत करने के लिए विंध्यलीडर के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब और मोबाइल एप को डाउनलोड करें ।

https://youtu.be/BPEra4qczfc

इत्र कारोबारी पीयूष जैन के घर डीजीजीआई की छापेमारी खत्म हुई. यह अब तक की सबसे बड़ी छापेमारी बतायी जा रही है.

कन्नौज/लखनऊ  इत्र कारोबारी पीयूष जैन  के घर डीजीजीआई की छापेमारी खत्म हुई. यह अब तक की सबसे बड़ी छापेमारी बतायी जा रही है. डीजीजीआई के एडिशनल डायरेक्टर जाकिर हुसैन ने बताया कि जांच टीम को यहां से जो सोना मिला है, उसे डीआरआई को सौंपा गया है. घर से बरामद 19 करोड़ की रकम SBI में जमा कराई गई है. आगे की जांच जारी है.

डीजीजीआई के एडिशनल डायरेक्टर जाकिर हुसैन ने विभाग के आला अफसरों के हवाले से बताया कि डीजीजीआई के कार्रवाई में यह सबसे बड़ी नकदी बरामदगी है.

मंगलवार को डीजीजीआई की टीम ने इत्र कारोबारी पीयूष जैन के कन्नौज स्थित पैतृक आवास में पांचवें दिन भी छापेमारी की थी, जो देर रात खत्म हो गई. सूत्रों की मानें जांच टीम ने पैतृक आवास से 19 करोड़ की नकदी, 23 किलो सोना और 600 किलो चंदन ऑयल बरामद किया है.

इस ऑयल की कीमत करीब 5.45 करोड़ बताई जा रही है. 27 दिसंबर तक टीम पीयूष गोयल के कानपुर और कन्नौज के ठिकानों से करीब 280 करोड़ रुपये बरामद कर चुकी थी.

डीजीजीआई के मुताबिक छापों के दौरान नगदी व गोल्ड के अलावा बड़ी संख्या में प्रापर्टी के दस्तावेज भी मिल रहे हैं. जिसमें कानपुर में चार, कन्नौज में सात, मुंबई में दो, दिल्ली में एक व दुबई में दो प्रॉपर्टी होने की बात सामने आई है. साथ ही करीब 350 फाइलें, 2700 दस्तावेज मिलने की बात कही जा रही है.

डीजीजीआई की टीम ने पीयूष जैन को गिरफ्तार किया था. सोमवार को कोर्ट से DGGI ने कारोबारी पीयूष जैन की 14 दिनों की रिमांड की मांग की थी. सुनवाई के बाद कोर्ट ने पीयूष जैन को 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में भेजने का फैसला सुनाया था.

क्या है पूरा मामला

शहर के छिपट्टी मोहल्ला निवासी इत्र कारोबारी पीयूष जैन के यहां टैक्स चोरी के शक में जीएसटी टीम ने 22 दिसम्बर को कानपुर वाले आवास पर टीम ने छापेमारी की थी. इस दौरान टीम को आवास से 177.45 करोड़ रुपये मिले थे.

उसके बाद टीम ने 24 दिसम्बर को कन्नौज के छिपट्टी मोहल्ला स्थित पैतृक आवास पर छापा मारा था. यहां पर टीम को जांच करते हुए आज पांच दिन हो गए है. मंगलवार को नोटों की गिनती पूरी होने पर एसबीआई की टीम चार बक्सों में करीब 19 करोड़ रुपए लेकर गई.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Share This News