Wednesday, February 28, 2024
Homeदेश29 फरवरी के बाद आपका पेटीएम काम करेगा या नहीं , RBI...

29 फरवरी के बाद आपका पेटीएम काम करेगा या नहीं , RBI के फैसले का क्या मतलब है ?

-

रिजर्व बैंक का आदेश देखने से लगता है कि पेटीएम पेमेंट बैंक का ऑपरेशन अब बंद। बैंकिंग रेगुलेशन एक्ट के 35 ए के तहत 29 फरवरी के बाद पेटीएम पेमेंट्स बैंक ग्राहक में कोई भी क्रेडिट डिपॉजिट, ट्रांजक्शन, वॉलेट, फॉस्ट टैग का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। मॉर्केट खुलते ही पेटीएम का शेयर 20 फीसदी तक गिर गया। डिजिटल बैंकिंग, पेमेंट गेटवे इस्तेमाल करने वाले देश के करोड़ों ग्राहकों को ये फैसला समझने में वक्त लगेगा।

नई दिल्ली । आपमें से बहुत सारे लोगों के फोन में पेटीएम इंस्ट्रॉल होगा। और आप अब ये खबरें लगातार पढ़ और देख रहे होंगे की पेटीएम के साथ कुछ गड़बड़ हो गई। दरअसल, पेटीएम को बहुत बड़ा झटका लगा है और ये झटरा रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने दिया है। आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट बैंक पर क्रेडिट ट्रानजक्शन और किसी भी तरह के डिपॉजिट लेने की रोक लगा दी है।

ऐसे में 29 फरवरी के बाद पेटीएम अब बैंकिंग सेवाएं नहीं दे पाएगा। कहा गया कि नियम ना मानने की वजह से ऐसा निर्णय लिया गया है। पेटीएम बैंक वॉलेट की संख्या 300 मिलियन बताई जाती है। इसके खातेदारों की संख्या 3 करोड़ से अधिक है। एक महीने में 1.6 अरब डॉलर के लेन-देन का रिकॉर्ड है। एक मिनट में सब बंद। लाइव मिंट में बाजार के एक जानकार का कहना है कि रिजर्व बैंक का आदेश देखने से लगता है कि पेटीएम पेमेंट बैंक का ऑपरेशन अब बंद। मॉर्केट खुलते ही पेटीएम का शेयर 20 फीसदी तक गिर गया। डिजिटल बैंकिंग, पेमेंट गेटवे इस्तेमाल करने वाले देश के करोड़ों ग्राहकों को ये फैसला समझने में वक्त लगेगा। 

Paytm

1.) सबसे पहले आपको बताते हैं कि एक्शन हुआ क्यों

11 मार्च 2022 के दिन आरबीआई ने पेटीएम को एक नोटिस जारी किया। इस नोटिस में कहा गया कि आप पेमेंट बैंक में नए ग्राहक नहीं जोड़ेंगे। आपको आईटी ऑडिट करवाना होगा। जांच पूरी होने के बाद ही इस पर आगे कोई फैसला लिया जाएगा। पेटीएम पेमेंट बैंक भी है और पेमेंट गेटवे भी है तो आरबीआई के नियमों को मानना उसकी मजबूरी है। आरबीआई के कहने के अनुसार पेटीएम की ऑडिट पूरी हुई। इस ऑडिट रिपोर्ट का ही आरबीआई ने अपने इस नए निर्णय में जिक्र किया है। आरबीआई ने कहा कि पेटीएम की ऑडिट रिपोर्ट और बाहरी ऑडिटरों की रिपोर्ट में पाया गया कि पेटीएम ने लगातार नियमों का उल्लंघन किया है। इसलिए  बैंकिंग रेगुलेशन एक्ट के 35ए के तहत 29 फरवरी के बाद पेटीएम पेमेंट्स बैंक ग्राहक में कोई भी क्रेडिट डिपॉजिट, ट्रांजक्शन, वॉलेट, फॉस्ट टैग का इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। 

2.) आरबीआई के एक्शन को 5 लाइन में समझें

पेटीएम पेमेंट्स बैंक की सेवा रोक दी जाएगी

फ़ास्टैग अकाउंट के बैलेंस का इस्तेमाल कर सकेंगे

फ़ास्टैग अकाउंट में और पैसे नहीं डाल सकेंगे

इक्सटर्नल बैंक से जुड़े वॉलेट, यूपीआई काम करेंगे

पेटीएम एप काम करता रहेगा

3.) क्या पेटीएम से यूपीआई भुगतान संभव होगा?

आरबीआई के एक्शन का असर उन लोगों पर पड़ने की आशंका है, जिन्होंने यूपीआई को पेटीएम पेमेंट्स बैंक खाते से लिंक किया है। पेटीएम पेमेंट्स बैंक खाते में 29 फरवरी तक पैसा ट्रांसफर किया जा सकता है। इसके खत्म होने तक इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। हालांकि, अगर आपका यूपीआई अड्रेस एसबीआई या आईसीआईसीआई बैंक जैसे दूसरे बैंक अकाउंट से जुड़ा हुआ है, तो आरबीआई की कार्रवाई का आप पर कोई कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

4.) पेटीएम काम करना नहीं करेगा बंद

इस खबर के सामने आने के बाद सोशल मीडिया पर दावा किया जाने लगा कि पेटीएम ही अब काम नहीं करेगा। लेकिन आपको साफ-साफ बता दें कि ये सारे दावे और नियम पेटीएम पेमेंट बैंक को लेकर हैं। अगर आपने पेटीएम पेमेंट बैंक में पैसा रखा है और उसका इस्तेमाल कर रहे हैं तो आपको इन नियमों को ध्यान से समझने की जरूरत है। 

5.) पेटीएम पेमेंट बैंक क्या है? 

पेटीएम पेमेंट बैंक में केवल पैसे जमा किए जा सकते हैं। उनके पास कर्ज देने का अधिकार नहीं है। ये डेबिट कार्ड तो जारी कर सकते हैं लेकिन क्रेडिट कार्ड जारी करने के लिए किसी लेंडर रेगुलेटर के साथ डील करनी होगी। एक तरह का ऐसा बैंक अकाउंट जिसमें पैसे रखे जा सकते हैं। आम तौर पर मर्चेंट्स को जो भुगतान मिलता है वो उनके पेटीएम पेमेंट अकाउंट में जाता है और फिर उनके बैंक खातों में पैसे ट्रांसफर होते हैं। इसके बदले में पेटीएम अपने ग्राहकों को क्रेडिट प्वाइंट देता है। 

6.) दुकानदार पेटीएम के जरिए पैसे स्वीकर करेंगे?

जो पेटीएम पेमेंट्स बैंक अकाउंट में पैसे लेते हैं वे पेमेंट्स स्वीकार नहीं कर पाएंगे, क्योंकि इन खातों में नए क्रेडिट नहीं होगी। हालांकि, उनमें से कई के पास दूसरी कंपनियों के क्यूआर स्टिकर हैं, तो वे डिजिटल पेमेंट स्वीकार करना जारी रखेंगे। लोन लेने वालों को अपना भुगतान जारी रखना होगा, क्योंकि ये कर्ज थर्ड पार्टी ने दिया है न कि पेटीएम ने। भुगतान न करने या किसी भी देरी से उनके क्रेडिट स्कोर पर असर पड़ेगा। 

7.) वॉलेट बैलेंस का क्या होगा ?

सबसे अच्छा विकल्प वॉलेट वैलेंस को वापस अपने बैंक अकाउंट में ट्रांसफर करना है (यह फ्री है)। आप बैलेस खत्म होने तक बिजली या फोन बिल पेमेंट कर सकते हैं। 29 फ़रवरी के बाद से ना तो बैंक अकाउंट में और ना तो वॉलेट में कोई क्रेटिड लिया जा सकेगा। 

8.) फूड और फ्यूल जैसे सब वॉलेट्स के बारे में क्या ?

आरबीआईन ने पेटीएम को महानगरों में इस्तेमाल होने वाले नैशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड और फूड, फ्यूल वॉलेट सहित किसी भी प्रीपेड उपकरण में फंड स्वीकार करने से रोक दिया है। वैलेंस का इस्तेमाल किया जा सकता है। 29 फरवरी के बाद कोई नया फंड नहीं जोड़ा जा सकता है।

9.) पेटीएम FASTag पर असर

पेटीएम FASTag का इस्तेमाल यूजर्स 29 फरवरी के बाद कर पाएंगे। हालाँकि, कुछ चीजें बदल गई हैं। अनुसार, 29 फरवरी से कोई भी व्यक्ति पेटीएम वॉलेट का उपयोग करके अपने पेटीएम फास्टैग को टॉप-ऑफ या रिचार्ज नहीं कर पाएगा। 29 फरवरी की तारीख के बाद पेटीएम FASTag आपके पास मौजूद बैलेंस के साथ काम करता रहेगा. हालाँकि, एक बार वह राशि समाप्त हो जाने के बाद, इसे फिर से रिचार्ज नहीं किया जा सकता है। न ही पेटीएम पेमेंट्स बैंक से फास्टैग को दूसरे बैंक में पोर्ट किया जा सकता है। इसलिए, लोगों के लिए किसी अन्य समर्थित बैंक से नया FASTag खरीदना सबसे उपयुक्त होगा।

10.) आरबीआई के एक्शन पर पेटीएम ने क्या कहा? 

पेटीएम की पेरेंट कंपनी वन97 कम्यूनिकेशन यानी ओसीएल ने कहा कि पेटीएम पेमेंट्स बैंक आरबीआई के निर्देशों के अनुपालन के लिए काम कर रही है और अब ये काम और तेजी से किए जाएंगे। बयान में कहा गया कि एक पेमेंट कंपनी होने के नाते ओसीएल सिर्फ पेटीएम पेमेंट्स बैंक ही नहीं बल्कि कई बैकों के साथ काम करती है। हम इस प्रक्रिया को तेज कर रहे हैं और जब से रोक लागू होगी तब हम पूरी तरह से अपने बैंक पार्टनर्स पर निर्भर हो जाएंगे। 

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!