Tuesday, June 18, 2024
Homeदेश"हर बार सोनिया गांधी से क्यों मिलूं?" पश्चिम बंगाल की CM ममता...

“हर बार सोनिया गांधी से क्यों मिलूं?” पश्चिम बंगाल की CM ममता बनर्जी ने दिए बड़े संकेत

-

ईमानदार और निड़र पत्रकारिता के हाथ मजबूत करने के लिए विंध्यलीडर के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब और मोबाइल एप को डाउनलोड करें

पश्चिम बंगाल में अप्रैल-मई में हुए विधानसभा चुनावों में जीत के बाद यह चर्चा तेज हो गई है कि ममता बनर्जी 2024 के आम चुनावों में भाजपा के खिलाफ विपक्षी चुनौती का नेतृत्व कर सकती हैं. उन्होंने यह भी कहा कि वह आगामी उत्तर प्रदेश चुनावों में सहयोग करने को तैयार हैं.

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को संकेत दिया कि वह अपनी पार्टी तृणमूल कांग्रेस  के विस्तार कार्यक्रम को जारी रखेंगी और इस सिलसिले में वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी और विपक्षियों के बड़े गढ़ मुंबई का दौरा भी करेंगी.

उन्होंने एक बड़ा संकेत इस बात का दिया कि कांग्रेस उनकी योजनाओं पर कब्जा कर सकती है. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर ममता बनर्जी ने कहा कि फिलहाल मीटिंग तय नहीं है, क्योंकि वे पंजाब चुनाव में व्यस्त हैं. बाद में, उन्होंने कहा, “हम हर बार सोनिया गांधी से क्यों मिलें?”

बनर्जी ने कहा, ‘‘इस बार मैंने मुलाकात के लिए सिर्फ प्रधानमंत्री का समय मांगा था. सभी नेता पंजाब के चुनाव में व्यस्त हैं. काम पहले है…हर बार हमें सोनिया गांधी से क्यो मिलना चाहिए? यह संवैधानिक रूप से बाध्यकारी थोड़े ही है?” बुधवार को उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की.

ममता की यह टिप्पणी उनकी पार्टी के एक बड़े विस्तारवादी होड़ के बीच आई है- जिसके तहत अधिकांश कांग्रेस नेता TMC में शामिल हो रहे हैं. पिछले कुछ हफ्तों में, कई नेताओं ने पाला बदल दिया है- इनमें गोवा के पूर्व सीएम लुइज़िन्हो फलेरियो, दिवंगत राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी, सिलचर से कांग्रेस की पूर्व सांसद और कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे संतोष मोहन देव की बेटी सुष्मिता देव शामिल हैं.

ममता बनर्जी सोनिया गांधी के साथ अच्छे समीकरणों के लिए जानी जाती हैं, लेकिन यह अगली पीढ़ी तक नहीं बढ़ सकी. बंगाल कांग्रेस नेताओं की बनर्जी के प्रति उदासीनता ने दोनों दलों के बीच दरार को और बढ़ा दी है.

पश्चिम बंगाल में अप्रैल-मई में हुए विधानसभा चुनावों में जीत के बाद यह चर्चा तेज हो गई है कि ममता बनर्जी 2024 के आम चुनावों में भाजपा के खिलाफ विपक्षी चुनौती का नेतृत्व कर सकती हैं. उन्होंने यह भी कहा कि वह आगामी उत्तर प्रदेश चुनावों में सहयोग करने को तैयार हैं.

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!