Monday, May 20, 2024
Homeउत्तर प्रदेशसोनभद्रसचिव की लापरवाही पर बिफरे जिलाधिकारी, पंचायत सचिव का रोका वेतन

सचिव की लापरवाही पर बिफरे जिलाधिकारी, पंचायत सचिव का रोका वेतन

-

सोनभद्र । जिलाधिकारी चंद्र विजय सिंह ने आज राबर्ट्सगंज विकास खण्ड के ग्राम पंचायत बसौली में आयोजित ग्राम समाधान दिवस का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान मौके पर उपस्थित आशा, ए0एन0एम0 से महिलाओं को स्वास्थ्य सम्बन्धी दी जा रही सुविधाओं की जानकारी प्राप्त की और गर्भवती व शिशुओं को लगने वाले टीके आदि के रजिस्टर का निरीक्षण किया।

ग्राम समाधान दिवस पर गांव के नागरिकों ने बारी-बारी से अपनी समस्याओं को जिलाधिकारी के समक्ष रखा, जिसमें सबसे ज्यादा मामला वृद्धा, विधवा व दिव्यांग पेंशन सम्बन्धी थे। उक्त प्रकरणों के दृष्टिगत जिलाधिकारी ने जब मौके पर उपस्थित ग्राम पंचायत सचिव से स्थिति के बाबत जानकारी लिया तो यह तथ्य सामने आया कि गांव में विधवा, वृद्धा एवं आवास हेतु पात्र लाभार्थी होते हुए भी पात्रता सूची में उनका नाम शामिल नहीं किया गया है। जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए ग्राम पंचायत अधिकारी को कार्य में तेजी लाने व पात्र लोगों के नाम सूची में लेकर उन तक सरकार की तरफ से मिलने वाली सुविधाओं का लाभ दिलवाने के निर्देश दिया।

इसी प्रकार से आवास व शौचालय के कार्य का सत्यापन भी ग्राम पंचायत अधिकारी द्वारा नहीं किया गया था, जिस पर ग्रामीणों से जानकारी प्राप्त की, तो ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम पंचायत अधिकारी गांव में बहुत कम आते हैं तथा ग्रामीणों की समस्याओं के निराकरण के लिए भी इनके द्वारा रुचि नहीं ली जाती है जिस पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त करते हुए डीपीआरओ को ग्राम पंचायत अधिकारी के वेतन भुगतान पर रोक के साथ ही स्पष्टीकरण जारी करने के निर्देश दिए गए।

ग्राम समाधान दिवस के दौरान ग्रामीणों ने बताया कि गांव में स्थित तालाब/पोखरा से लोग खेतों में फसलों की सिंचाई का कार्य करते हैं, जिससे कि तालाब जल्द सूख जाता है। जिस पर जिलाधिकारी ने निर्देशित करते हुए कहा कि पोखरे में मशीन से अनावश्यक तरीके से पानी निकालने वाले व्यक्ति के विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जाये। इस दौरान उन्होंने परिसर में स्थापित आंगनबाड़ी केन्द्र का निरीक्षण भी किया, निरीक्षण के दौरान आंगनबाड़ी केन्द्र के साफ-सफाई की व्यवस्था, बच्चों के खेल-कूद की सामग्री पर्याप्त मात्रा में नहीं पायी, जिस पर जिलाधिकारी ने जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देशित किया कि आंगनबाड़ी केन्द्र में बच्चों के खेल-कूद के लिए सभी आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित कर लें । इस दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि पंचायत सचिवालय पर पंचायत सहायक नियमित रूप से उपस्थित रहकर ग्रामीणों की जो भी शिकायतें प्राप्त हो रही हैं उसको शिकायत रजिस्टर पर अंकित करें।इस दौरान ग्रामीणों ने विधवा, वृद्धा आदि पेंशनों का पैसा सोनभद्र नगर सहकारी बैंक में न पहुंचने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित को निर्देशित करते हुए कहा कि दूसरे बैंक में खाता खोलकर इन सभी का पैसा दिलाया जाये।

जिलाधिकारी ने बसौली गांव में ग्रामीणों द्वारा अधिक समस्याओं के निराकरण हेतु खण्ड विकास अधिकारी को निर्देशित किया गया कि वह गांव का निरीक्षण कर आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करायें। इस दौरान किसान सम्मान निधि के सम्बन्ध में प्राप्त शिकायतों के क्रम में जिलाधिकारी ने सम्बन्धित लेखपाल को पात्र किसानों का सत्यापन कर किसान सम्मान निधि दिलाने हेतु निर्देशित किया गया।

जिलाधिकारी ने कहा कि व्यक्तिगत शौचालय एवं आवास जिन पात्र लाभार्थियों को नहीं प्राप्त हुआ है उसकी भी सूची बनाई जाए तथा समय पर उनके खाते में धनराशि प्रेषित किया जाए। ग्राम समाधान दिवस के मौके पर जिला पंचायत राज अधिकारी विशाल सिंह, डीपीसी अनिल केसरी, ग्राम पंचायत अधिकारी, ग्राम प्रधान सहित गांव के नागरिकगण उपस्थित रहे।

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!