Monday, May 20, 2024
Homeधर्मश्री कृष्ण जन्मोत्सव की कथा सुन भाव विभोर हुए श्रद्धालु

श्री कृष्ण जन्मोत्सव की कथा सुन भाव विभोर हुए श्रद्धालु

-

– कथा के अनुसार सजाई गई सजीव झांकी रही आकर्षण का मुख्य केंद्र
– सुमधुर भजनों के साथ कथा श्रवण करने भक्तों की उमड़ी रही भीड़

राबर्ट्सगंज, सोनभद्र। ‌आर्य समाज मंदिर में आयोजित सप्त दिवसीय संगीतमय श्रीमद् भागवत कथा के चतुर्थ दिवस रविवार को प्रवचन कर्ता देवी विष्णु प्रिया ने वामन अवतार, श्री राम चरित्र, कृष्ण जन्मोत्सव की कथा सुनाई। इस दौरान जीवंत झांकियों के साथ श्रीकृष्ण जन्मोत्सव मनाया गया। पूरा पंडाल नंद के घर आनंद भयो व जय कन्हैया लाल की.. के उद्घोष से गूंज उठा।

भगवान श्री कृष्ण के जन्म के समय सभी श्रोता झूमने और नाचने लगे। सुमधुर भजनों के साथ कथा श्रवण करने को भक्तों की भीड़ उमड़ रही। कथा व्यास ने वामन अवतार की कथा में बताया कि भगवान ने राजा बलि से दान में तीन ही पग मांगा। प्रभु ने पहले पग में राजा बलि का मन नापा,तो दूसरे में पूरी सृष्टि यानी धन को नाप दिया। जब तीसरे पग की बारी आई, तो राजा बलि भी मूक हो गए। तब उनकी पारी आगे आई और राजा बलि को अपना तन भगवान को अर्पित कर देने की बात कही। इस तरह राजा बलि ने तन, मन व धन भगवान के चरणों में अर्पित कर दिया।

श्रीराम कथा का वर्णन करते हुए मनुष्य को उनके जीवन चरित्र का अनुसरण करने की प्रेरणा दी। कथा के दौरान श्रीरामचरित मानस के दोहों व चौपाइयों का संक्षेप में वर्णन करते हुए उसका सार बताया तथा सुमधुर भजन गायन के बीच भगवान के कृष्ण रूप में जन्म लेने का उद्देश्य बताया। कथा के अनुसार लीला व्यास ज्ञानेश आनंद के नेतृत्व में सजाई गई सजीव झांकी में वामन अवतार में जीवा भारद्वाज, श्री राम शिवानी पांडे, जानकी डॉ निधि गोपाल, लक्ष्मण के रूप में शिवांगी, वासुदेव बंसी जी, विश्वामित्र श्रेया केसरी, नंद बाबा नरेंद्र गर्ग व यशोदा मैया मंजू गर्ग तथा बाल गोपाल श्री कृष्ण के रूप में श्रीनिका रही। जिन्होंने अपने सुंदर प्रदर्शन से वहां उपस्थित श्रद्धालुओं का मन मोह लिया।

कथा का संचालन यज्ञाचार्य सौरभ कुमार भारद्वाज ने किया। चतुर्थ दिवस की कथा का समापन कथा के परीक्षित एवं मुख्य यजमान वरिष्ठ समाजसेवी रतन लाल गर्ग एवं उनकी धर्मपत्नी अनारकली देवी ने व्यासपीठ और श्रीमद् भागवत पुराण के पूजन आरती के साथ किया। इस अवसर पर मुख्य रूप से सदर विधायक भूपेश चौबे, पूर्व सांसद छोटेलाल खरवार, बीजेपी के पूर्व जिला अध्यक्ष रमेश मिश्रा, रामायण कल्चर मैपिंग योजना के डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर दीपक कुमार केसरवानी, गणेश कुमार अग्रवाल, प्रमोद गुप्ता, नरेंद्र गर्ग, कृष्ण कुमार, विनोद, नितेश गोयल, संतोष, सीटू, निशा, उषा अग्रवाल सहित भारी संख्या में श्रद्धालु गण उपस्थित रहे।

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!