Tuesday, February 27, 2024
Homeशिक्षाशिक्षा के द्वारा सामाजिक परिवर्तन संभव है

शिक्षा के द्वारा सामाजिक परिवर्तन संभव है

-


राबर्ट्सगंज नगर स्थित कुशवाहा भवन पर बसंत उत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में समिति के संरक्षक उदय नाथ कुशवाहा, झरि लाल कुशवाहा ,बालेश्वर सिंह, शिक्षाविद भरत सिंह कुशवाहा, काशी प्रसाद मौर्य व समिति के अध्यक्ष मोहन कुशवाहा सहित अन्य सभी लोगों ने मिलकर तथागत गौतम बुद्ध की प्रतिमा के सामने दीप प्रज्वलित करते हुए कार्यक्रम का आगाज हुआ। संरक्षक सदस्यों ने शिक्षा पर विशेष जोर देते हुए कहा कि बिना शिक्षा के सामाजिक परिवर्तन संभव नहीं है।

अमरदेव मौर्य ने कहा युवा वह शक्ति है जो सामाजिक परिवर्तन करने में सक्षम है। भरत सिंह कुशवाहा और काशी प्रसाद मौर्य ने कहा हमें सशक्त राष्ट्र के निर्माण में शिक्षा की आवश्यकता बहुत है ।डॉ संजय कुमार सिंह ने कहा कि हमें समाज में परिवर्तन लाने से पहले स्व परिवर्तन करना होगा ,बसंत ऋतु में प्रकृति हमें यही संदेश देती है। समिति के आय का विवरण रविकांत कुशवाहा व शशिकांत वर्मा ने दिया। पंकज कुशवाहा ने कहा, समिति का उद्देश्य पूर्ण रूप से अराजनीतिक है हमें सामाजिक कार्यों को करते हुए समाज में अपनी एक सशक्त भूमिका का निर्वाह करना होगा ।

उप सचिव डॉ दिनेश व मनोज मौर्य मीडिया प्रभारी ने कहा हमें शिक्षा को वर्तमान परिवेश के अनुसार इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का प्रयोग करते हुए अपने ज्ञान को विस्तार करने की जरूरत है ।भागीरथी मौर्य ,नरेंद्र प्रताप मौर्य, बृज बिहारी, मंगल चरण, रामप्रवेश, दयाराम व अरुण कुमार सिंह ने अपने अपने विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम का संचालन रवि प्रकाश मौर्य ने किया ।समिति के सक्रिय सदस्य प्रेम नारायण सिंह के दिवंगत होने पर एक शोक सभा का भी आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता मोहन कुशवाहा ने किया।

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!