Saturday, February 4, 2023
spot_img
Homeब्रेकिंगशक्तेसगढ़ अड़गड़ानंद के आश्रम में चली गोली , एक साधु की हुई...

शक्तेसगढ़ अड़गड़ानंद के आश्रम में चली गोली , एक साधु की हुई मौत

उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में स्थित प्रसिद्ध संत स्वामी अड़गड़ानंद के आश्रम में गोली चलने से एक साधु की मौत हो गई. वहीं दूसरे साधु घायल हो गए. घायल साधु को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है.
सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया. फिलहाल मामले की जांच की जा रही है. पुलिस इस घटना को सुसाइड मान रही है. वहीं आश्रम से 315 बोर के दो तमंचे भी बरामद हुए हैं.

सोनभद्र । उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में स्थित प्रसिद्ध संत स्वामी अड़गड़ानंद के आश्रम में गोली चलने से एक साधु की मौत हो गई , जबकि वहीं एक अन्य साधु घायल हो गया हैं । घायल साधु को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है । सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया । फिलहाल मामले की जांच की जा रही है । पुलिस इस घटना को आत्महत्या मान रही है जबकि आश्रम से 315 बोर के दो तमंचे भी बरामद हुए हैं.

उल्लेखनीय हैं कि चुनार थाना क्षेत्र में स्वामी अड़गड़ानंद का शक्तेसगढ़ में आश्रम है । इस आश्रम में सैकड़ों की संख्या में सेवादार व साधु-संत रहते हैं । गुरुवार सुबह अचानक आश्रम में गोली चलने की आवाज आई तो सनसनी फैल गई । घटना की सूचना पुलिस को दी गई । क्षेत्राधिकारी नित्यानंद राय के नेतृत्व में चुनार कोतवाली पुलिस आश्रम पहुंची और घटना को लेकर जांच शुरू की ।

पुलिस के मुताबिक , आश्रम परिसर में दो साधुओं को गोली लगी , जिसमें मध्य प्रदेश के शिवपुरी के रहने वाले जीवन बाबा उर्फ जीत की मौके पर ही मौत हो गई । वहीं आश्रम के दूसरे साधु आशीष बाबा जो गोली लगने से घायल हो गए हैं उन्हें चंदौली में एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है ।

इस घटना को पुलिस अभी भी आत्महत्या बता रही है जबकि मौके से पुलिस ने 315 बोर के दो तमंचे बरामद किए हैं । इस दौरान पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने फील्ड यूनिट व डॉग स्क्वाड के साथ मौके की जांच पड़ताल की । पुलिस ने साधु के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है ।

घटना के संबंध में क्षेत्राधिकारी का कहना है कि आश्रम से दो कट्टे मिले हैं. एक बाबा के सिर में गोली लगी है । जांच पड़ताल की जा रही है । घटना किन वजहों से घटी, इसकी जांच की जा रही है । वहीं कहा जा रहा है कि आश्रम में शिष्यों के बीच आपस में वर्चस्व को लेकर घटना हो सकती है ।

फिलहाल जांच के बाद ही घटना के कारणों की सच्चाई सामने आएगी । क्षेत्राधिकारी नित्यानंद राय ने कहा कि शव की तलाशी ली गई तो आधार कार्ड मिला है, जिसमें मृतक का नाम जीवन बाबा लिखा था । सेवादारों से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि वह आश्रम में आते रहते थे ।

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News