Sunday, August 7, 2022
spot_img
Homeराजनीतिराजनीतिक दलों के दलदल से निकल कर नौजवान करें सामाजिक सरोकार के...

राजनीतिक दलों के दलदल से निकल कर नौजवान करें सामाजिक सरोकार के कार्य – श्रीकांत त्रिपाठी ।

एक दल नागनाथ है, तो दूसरा दल सांप नाथ ।

पत्रकारों पर चली गोली की मजिस्ट्रेटेटी जांच की की मांग

सोनभद्र। जनहित तथा किसान हित की लड़ाई प्रमुखता से लड़ने वाले सामाजिक संगठन पूर्वांचल नव निर्माण मंच तथा पूर्वांचल नव निर्माण किसान मंच के मेंबर्स की बैठक रविवार को मंच के कार्यालय पर संपन्न हुई । तीन घंटे तक चली मंच की बैठक में चरम सीमा लांघ चुकी मंहगाई, भ्रष्टाचार, कृषि समस्या तथा सोनभद्र में बढ़ते अपराध पर चर्चा की गई । बैठक की अध्यक्षता कर रहे पूर्वांचल नव निर्माण मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीकांत त्रिपाठी ने भाजपा सरकार की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए कहा कि जनता से जीरो टॉलरेंस का वादा कर सत्ता में आई भाजपा सरकार में विकास कार्यों तथा जनकल्याणकारी योजनाओं में भ्रष्टाचार तथा अपराध पहले की सरकारों के सापेक्ष अधिक देखने को मिल रहा है ।

पंडित श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूरल अर्बन मिशन के कोदई कलस्टर अंतर्गत चयनित मरकुड़ी गांव के ग्रामीणों द्वारा बगैर काम कराए लाखों रुपये के भुगतान के आरोप का जिक्र करते हुए कहा कि गांव वालों के द्वारा मरकुड़ी ग्राम पंचायत में हुए भ्रष्टाचार की जांच कराने के लिए जिलाधिकारी सोनभद्र के नाम शपथपत्र पर शिकायत करने के बावजूद कोई कार्रवाई ना होना प्रमाण है कि भ्रष्टाचार रोकने की बजाय भाजपा सरकार के लोग भ्रष्टाचारी को संरक्षण देने का काम कर रहे हैं।

त्रिपाठी ने आरोप लगाया कि पूर्व की सपा बसपा सरकार के अलग अलग कार्यकाल के योग के बराबर अकेले भाजपा सरकार में भ्रष्टाचार को अंजाम दिया जा रहा है। जिसकी शिकायत पर कोई सुनवाई भी नहीं की जा रही है, जो चिंता का विषय है । श्रीकांत त्रिपाठी ने संबोधन में कहा कि एक दल नागनाथ है तो दूसरा दल सांप नाथ है, निर्वाचित होने के बाद किसी दल को जनहित से कोई सरोकार नहीं होता। सभी दल के लोग भ्रष्टाचार तथा भ्रष्टाचारी के सामने नतमस्तक हो जाते हैं। नौजवानों से अपील करते हुए त्रिपाठी ने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ सामाजिक सरोकार के लिए नौजवान राजनीतिक दलों के दलदल से बाहर निकलकर सामाजिक सरोकार का श्रेष्ठ प्रयास स्वतंत्र रूप से करें । दलों के भरोसे लोगों के अधिकारों का दोहन होता ही रहेगा।

बैठक में खलियारी के पत्रकारों पर चली गोली की निंदा करते हुए पूर्वांचल नव निर्माण के नेता सुमित मिश्रा ने कहा कि घटना को किसी बड़े अपराध में लिप्त अपराधियों द्वारा अंजाम दिया गया है । इस तरह पत्रकार पर हमला जनपद का पहला मामला है जो गंभीर चिंता का विषय है । कहा यदि पत्रकारों की कलम पर भी बंदूक का पहरा लगा दिया जाएगा तो लोगों की आवाज बहरी सरकार तक पहुंचाएगा कौन ? सुमित मिश्रा ने गोली कांड की मजिस्ट्रेटी जांच कराने की मांग जिलाधिकारी से करते हुए पत्रकारों की सुरक्षा भी सुनिश्चित कराने की मांग की ।

अभय पटेल तथा नगवां ब्लाक अध्यक्ष विरेन्द्र यादव ने निजी विद्यालयों तथा निजी चिकित्सालयों की मनमानी का जिक्र करते हुए कहा कि शिक्षा देने के नाम पर मोटी फीस वसूल कर भी अच्छी शिक्षा बच्चों को नहीं दे रहे विद्यालय। अभिभावकों को स्कूल फीस के अलावा बच्चों की शिक्षा के लिए ट्यूशन फीस अलग से देकर घर पढ़वाना पड़ता है। शासनादेश के बावजूद फीस के अभाव में बच्चों का मानसिक उत्पीड़न किया जा रहा है । अभय पटेल ने निजी विद्यालयों में गुणवत्तापूर्ण पठन-पाठन सुनिश्चित कराने के लिए निगरानी टीम गठित कर नियमित निगरानी कराने की मांग करते हुए निजी अस्पतालों की बदइंतजामी पर भी कार्यवाही सुनिश्चित कराने की मांग के साथ-साथ एक निजी अस्पताल की लापरवाही से काल के गाल में समा गई गुड्डी को न्याय दिलाने की मांग भी की ।

उपस्थित किसानों ने मौसम की बेरुखी पर चिंता जताई और कहा कि पन्द्रह जुलाई होने के बाद अभी बरसात ना होने से किसानों की खेती-बाड़ी की 50% संभावना समाप्त हो चुकी है। धान की नर्सरी सूखने लगी है पानी के अभाव में। ऐसे में किसानों ने सरकार से सोनभद्र को सूखा घोषित करते हुए सूखा राहत 15 हज़ार रुपए प्रति एकड़ की मांग करते हुए सरकारी कर्ज की वसूली पर तत्काल रोक लगाने की मांग की है।

संभावित मौसम को देखते हुए मंच ने किसानों से कहा कि जिनके पास किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) हो वो सभी प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत अपनी फसलों का बीमा करा ले अगर जिन कृषकों ने बैंको को
ऑप्ट आउट (OPT-OUT) फार्म जमा किए है वो अपने संबंधित बैंक में जाकर ऑप्ट इन (OPT-IN) फार्म जमा कर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अर्न्तगत अपनी अधिसूचित फसलों का बीमा कराकर अपनी फसलों को जोखिम से बचाया जा सके उचित समय पर बीमा की क्षतीपूर्ति होने पर लाभ ले सके।बैठक में उपस्थित किसान सत्य प्रकाश देव, काशीनाथ देव, उदय प्रकाश, बेचन सिंह, रमाशंकर मौर्य, रामजतन, महेंद्र, पवन, रामकुमार राजेश, श्रीराम शर्मा, गंगेश्वर, शम्भू सिंह, कमलेश, दिनेश, गुड्डू सिंह, ओमप्रकाश, गुलाब, बुल्लू, फूल सिंह इत्यादि।




Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News