Wednesday, November 30, 2022
spot_img
Homeखेलभारतीय फुटबॉल टीम ने रचा इतिहास , फीफा नेशंस कप-2022 के...

भारतीय फुटबॉल टीम ने रचा इतिहास , फीफा नेशंस कप-2022 के लिए किया क्वॉलीफाई

भारतीय फुटबॉल टीम ने शनिवार को फीफा नेशंस कप-2022 के लिए क्वॉलीफाई कर इतिहास रच दिया है. इसका आयोजन 27 से 30 जुलाई तक डेनमार्क के कोपेनहेगन में होगा.

नई दिल्ली: भारत ने शनिवार को फीफा नेशंस कप-2022 के लिए क्वॉलीफाई कर इतिहास रच दिया है. यह पहली बार है, जब भारत एस्पोर्ट्स शोपीस इवेंट में खेलेगा, जो इस साल 27 से 30 जुलाई तक डेनमार्क के कोपेनहेगन में होने वाला है. भारत ने फीफा नेशंस सीरीज 2022 प्लेऑफ में कोरिया और मलेशिया को हराकर शोपीस इवेंट के लिए क्वॉलीफाई किया.

भारतीय-ई फुटबॉल टीम की यात्रा जनवरी 2021 में शुरू हुई, जब एआईएफएफ ने फीफा नेशंस सीरीज-2021 के लिए फीफा के साथ भागीदारी समझौते पर हस्ताक्षर किए. भारत भाग लेने वाले 60 देशों में से था और उसे मध्य पूर्व और अफ्रीका क्षेत्र में रखा गया था. भारत अपने क्षेत्र में तीसरे स्थान पर रहा, फीफा नेशंस प्लेऑफ-2021 में एक स्थान से चूक गया.

भारत ने सत्र का अंत 22 की वैश्विक रैंकिंग के साथ किया और साल 2021 की रैंकिंग में इटली, अर्जेंटीना और स्पेन जैसे दिग्गजों से ऊपर पायदान पर रहा. साल 2022 सीजन के लिए भारत को एशिया/ओशिनिया क्षेत्र में स्थानांतरित कर दिया गया और उसे प्ले-इन्स में स्थान दिया गया, जो प्लेऑफ (राष्ट्र कप से पहले अंतिम चरण) के लिए सीधी योग्यता प्रदान करेगा. प्ले-इन के दौरान, भारत ने 32 मैच खेले, जिसमें 12 जीत, 11 हार और 9 ड्रॉ रहे. पूरे चार मैच वीक के दौरान, भारत ने डिवीजन 1 में अपना स्थान बरकरार रखा.

इसके साथ, भारत ने कंसिस्टेंसी पॉइंट्स चार्ट में दूसरे स्थान पर रहते हुए सफलतापूर्वक प्लेऑफ के लिए क्वॉलीफाई किया. इस अवधि के दौरान, भारत ने 19 की अपनी सर्वोच्च वैश्विक रैंकिंग भी हासिल की. प्लेऑफ में जाने से भारत के लिए लक्ष्य आसान था. 2 मैच जीतें और शोपीस इवेंट में अपना स्थान पक्का करेंनई दिल्ली: भारत ने शनिवार को फीफा नेशंस कप-2022 के लिए क्वॉलीफाई कर इतिहास रच दिया है. यह पहली बार है, जब भारत एस्पोर्ट्स शोपीस इवेंट में खेलेगा, जो इस साल 27 से 30 जुलाई तक डेनमार्क के कोपेनहेगन में होने वाला है. भारत ने फीफा नेशंस सीरीज 2022 प्लेऑफ में कोरिया और मलेशिया को हराकर शोपीस इवेंट के लिए क्वॉलीफाई किया.

भारतीय-ई फुटबॉल टीम की यात्रा जनवरी 2021 में शुरू हुई, जब एआईएफएफ ने फीफा नेशंस सीरीज-2021 के लिए फीफा के साथ भागीदारी समझौते पर हस्ताक्षर किए. भारत भाग लेने वाले 60 देशों में से था और उसे मध्य पूर्व और अफ्रीका क्षेत्र में रखा गया था. भारत अपने क्षेत्र में तीसरे स्थान पर रहा, फीफा नेशंस प्लेऑफ-2021 में एक स्थान से चूक गया.

भारत ने सत्र का अंत 22 की वैश्विक रैंकिंग के साथ किया और साल 2021 की रैंकिंग में इटली, अर्जेंटीना और स्पेन जैसे दिग्गजों से ऊपर पायदान पर रहा. साल 2022 सीजन के लिए भारत को एशिया/ओशिनिया क्षेत्र में स्थानांतरित कर दिया गया और उसे प्ले-इन्स में स्थान दिया गया, जो प्लेऑफ (राष्ट्र कप से पहले अंतिम चरण) के लिए सीधी योग्यता प्रदान करेगा. प्ले-इन के दौरान, भारत ने 32 मैच खेले, जिसमें 12 जीत, 11 हार और 9 ड्रॉ रहे. पूरे चार मैच वीक के दौरान, भारत ने डिवीजन 1 में अपना स्थान बरकरार रखा.

भारत ने कंसिस्टेंसी पॉइंट्स चार्ट में दूसरे स्थान पर रहते हुए सफलतापूर्वक प्लेऑफ के लिए क्वॉलीफाई किया. इस अवधि के दौरान, भारत ने 19 की अपनी सर्वोच्च वैश्विक रैंकिंग भी हासिल की. प्लेऑफ में जाने से भारत के लिए लक्ष्य आसान था. 2 मैच जीतें और शोपीस इवेंट में अपना स्थान पक्का करें और ठीक यही उन्होंने किया है, कोई भी कह सकता है. चरणजोत सिंह, सिद्ध चंदराना और सारांश जैन की मदद से भारत ने कोरिया और मलेशिया को हराया और अब टीम जुलाई के अंत में डेनमार्क जाएगी. और ठीक यही उन्होंने किया है, कोई भी कह सकता है. चरणजोत सिंह, सिद्ध चंदराना और सारांश जैन की मदद से भारत ने कोरिया और मलेशिया को हराया और अब टीम जुलाई के अंत में डेनमार्क जाएगी.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News