Monday, May 20, 2024
Homeउत्तर प्रदेशभाजपा राज में बेकारी, महंगाई और बेबसी बढ़ी - आइपीएफ

भाजपा राज में बेकारी, महंगाई और बेबसी बढ़ी – आइपीएफ

-

● रोजगार और जमीन का अधिकार बनेगा चुनावी मुद्दा
● एजेंडा लोकसभा चुनाव 2024 पर हुआ संवाद

ओबरा । सोनभद्र । बड़े पूंजी घरानों की मदद करने की भाजपा सरकार की नीतियों के कारण पूरे देश में बेकारी, महंगाई और बेबसी बढ़ी है। मोदी की गारंटी के नाम पर चाहे जितनी भी वाह- वाही की जाए और अपनी पीठ थपथपाई जाए सच्चाई यह है कि खेती किसानी, छोटे मझोलें उधोग संकट के हवाले है, लोगों को रोजगार न मिलने के कारण बड़े पैमाने पर पलायन हो रहा है और शिक्षा व स्वास्थ्य का हाल बुरा है। रेणुका पार क्षेत्र की हालत तो बेहद खराब है।

डिजिटल क्रांति के इस दौर में डबल इंजन सरकार में भी इन इलाकों में मोबाइल का नेटवर्क नहीं है। पीने के पानी के लिए लोग चुआड़ पर निर्भर है। इसलिए लोग अब मोदी सरकार को बदलना चाहते हैं। यह बातें जुगैल के चाडम, जोरबा, हसरा और गर्दा आदि गांव में आयोजित जनसंपर्क और संवाद में वक्ताओं ने कही।

वक्ताओं ने कहा कि देश के बड़े पूंजी घरानों के 17 लाख करोड़ के कर्ज केंद्र सरकार ने माफ कर दिए लेकिन किसानों का कर्ज माफ करने के लिए सरकार तैयार नहीं है। आदिवासियों के जल, जंगल, जमीन पर पुश्तैनी अधिकारों पर लगातार हमला किया जा रहा है। वनाधिकार कानून को विफल कर आदिवासियों की जमीन पर वन विभाग आए दिन बेदखली की कार्रवाई कर रहा है। वन संरक्षण अधिनियम लाकर सरकार ने पर्यावरण और वनों के दोहन की खुली छूट बड़े कॉर्पोरेट घरानों को दे दी है।

देश में असमानता का आलम यह हो गया है कि एक प्रतिशत पूंजी घरानों का देश की 40 प्रतिशत संपत्ति पर कब्जा है। इसलिए चुनाव में भाजपा को हराना तो जरूरी है ही साथ ही रोजगार, शिक्षा, स्वास्थ्य, जमीन का अधिकार, पर्यावरण की रक्षा और खेती किसानी के विकास के सवालों को मजबूती से उठाना होगा। वक्ताओं ने विपक्ष के दलों से भी कहा कि वह जनमुद्दों पर अपनी स्थिति स्पष्ट करें।

संवाद में ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के प्रदेश महासचिव दिनकर कपूर, युवा मंच के प्रदेश संयोजक राजेश सचान, युवा मंच के तहसील ओबरा संयोजक धनपाल गोंड, बलवंत सिंह खरवार, श्याम लाल गोंड, जय सिंह गोंड, राम मूरत गोंड, बाल सम्मन गोंड, अंतु सिंह गोंड, राजाराम गोंड, लक्ष्मण सिंह गोंड, जगदीश गोंड, धनसरिया गोंड, शांति गोंड, संतोषी गोंड, पानकली गोंड, भगवंती गोंड, कलवंती गोंड, जीरवाह गोंड आदि मौजूद रहे।

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!