Thursday, February 29, 2024
Homeबिजनौरबच्ची के पेट में कैसे पहुंचा कई किलो बाल ,डॉक्टरों ने निकाला...

बच्ची के पेट में कैसे पहुंचा कई किलो बाल ,डॉक्टरों ने निकाला बालों का गुच्छा

-

बिजनौर । बच्चों को बचपन में ऐसी कई आदतें लग जाती हैं, जिनके बारे में उनके माता-पिता को भी पता नहीं चलता. जैसे-जैसे बच्चे बड़े होते हैं, उनकी बहुत सी आदतें समय के साथ चली जाती हैं. मगर बचपन की कुछ आदतें ऐसी होती हैं, जो समय के साथ भी नहीं जाती और इसका खामियाजा आने वाले समय में भुगतना पड़ता है. कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है । उत्तर प्रदेश के बिजनौर सेआए ऐसे ही एक मामले का खुलासा उस समय हुआ जब डॉक्टरों ने एक 14 साल की लड़की की जब सर्जरी की , तो बच्ची के परिजनों से लेकर डॉक्टर भी हैरान रह गए.

चोरी-छिपे बाल खाने की आदत ने पहुंचा दिया अस्पताल

बिजनौर की एक 14 साल की लड़की के पेट में काफी दिनों से दर्द हो रहा था. मिली जानकारी के मुताबिक, बच्ची जो भी खाती थी, उसके कुछ देर बाद उसे उल्टी हो जाती थी. बच्ची को अक्सर पेट में दर्द और उल्टी की शिकायत रहने लगी थी. परेशान होकर परिजन बच्ची को बिजनौर के प्रकाश अस्पताल लेकर गए. वहां जो खुलासा हुआ, उसे देख डॉक्टर और परिजन सभी हैरान रह गए.

अस्पताल में डॉक्टर ने बच्ची के पेट का अल्ट्रासाउंड किया और  अल्ट्रासाउंड में जो दिखा, वह हैरान और परेशान करने वाला था. दरअसल अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट में बच्ची के पेट में बालों के गुच्छे से बनी बड़ी-बड़ी गांठे नजर आईं, जिसे देख बच्ची के परिजन परेशान हो गए.

तब जाकर सामने आया कि बच्ची को चोरी-छिपे बाल खाने की आदत थी. बाल, बच्ची के पेट में जमा होते गए और वह धीरे-धीरे बालों के गुच्छे में बदल गए. डॉक्टर के मुताबिक, बाल खाने की बीमारी अक्सर महिलाओं में देखी जाती हैं. ये मानसिक रूप से पनपती है और बाल खाने की आदत पड़ जाती है.

पेट से निकला ढाई किलो के करीब बालों का गुच्छा

बच्ची की हालत को देखते हुए डॉक्टर ने फौरन पेट की सर्जरी का फैसला किया. बच्ची की सर्जरी कर पेट से बालों का गुच्छा निकाला गया. बताया जा रहा है कि बच्ची के पेट से करीब ढाई किलों के करीब बालों का गुच्छा निकला है. सर्जरी के बाद बच्ची की सेहत में सुधार है और बच्ची के परिजनों और डॉक्टरों ने राहत की सांस ली है.

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!