Saturday, June 22, 2024
Homeराजनीतिप्रशिक्षण से पराक्रम: बूथ स्तर तक मजबूती देने के लिए यूपी कांग्रेस...

प्रशिक्षण से पराक्रम: बूथ स्तर तक मजबूती देने के लिए यूपी कांग्रेस ने शुरू किया प्रशिक्षण महाअभियान

-

‘किसने बिगाड़ा यूपी’ के अंतर्गत भाजपा के अलावा सपा-बसपा राज की कमियों को उजागर करने के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है। 

ईमानदार और निड़र पत्रकारिता के हाथ मजबूत करने के लिए विंध्यलीडर के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब और मोबाइल एप को डाउनलोड करें

विवेक श्रीवास्तव

लखनऊ। यूपी में कांग्रेस ने मजबूती के साथ अपने पांव जमाने शुरू कर दिए हैं।  इस दिशा में उसके सामने सबसे बड़ी चुनौती संगठन निर्माण की थी। बताया जा रहा है कि पार्टी संगठन निर्माण के अंतिम पड़ाव पर है। सूबे के पदाधिकारियों की मानें तो प्रदेश के सभी 823 ब्लाकों की कमेटियां गठित हो गई हैं। 8134 न्याय पंचायत के अध्यक्ष अपनी कमेटियों को अंतिम रूप दे रहे हैं। साथ ही साथ अब ग्राम सभा अध्यक्षों के चयन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। 

इसी कड़ी में पार्टी ने संगठन में शामिल नए पदाधिकारियों को राजनैतिक-वैचारिक रूप से तैयार करने के लिए प्रशिक्षण का काम शुरू कर दिया है। पार्टी ने इसको पूरा अभियान का ही रूप दे दिया है। कांग्रेस ने इस अभियान की टैग लाइन दिया है- विजय सेना निर्माण। 100 दिन चलने वाले इस अभियान के दौरान 700 प्रशिक्षण कैम्प आयोजित किये जायेंगे। एक पदाधिकारी ने बताया कि इस दौरान  करीब 2 लाख पदाधिकारियों का प्रशिक्षण होगा। 

जिलावार प्रशिक्षण कैम्प शुरू, बूथ स्तर के पदाधिकारियों तक का होगा प्रशिक्षण

रिपोर्ट के मुताबिक आज से शुरू इस अभियान में जिलावार प्रशिक्षण शुरू हुआ है। जिसमें जिले और शहर की कमेटी के सदस्यों के साथ ब्लॉक, न्याय पंचायत और वार्ड के अध्यक्ष प्रशिक्षण ले रहे हैं। इसके साथ ही साथ नगर अध्यक्ष और विभिन्न मोर्चा संगठनों के अध्यक्ष भी इस प्रशिक्षण शिविर में भाग ले रहे हैं। 

संगठन सचिव अनिल यादव ने बताया कि अगले 12 दिन में जिलावार प्रशिक्षण खत्म हो जाएगा। इसके बाद विधानसभा वार और ब्लॉक स्तरीय प्रशिक्षण शुरू किया जाएगा। दिलचस्प बात यह है कि अधिकृत पदाधिकारियों के अलावा इस प्रशिक्षण शिविर में अन्य किसी को बैठने की अनुमति नहीं है। 

इसके साथ ही पार्टी का पूरा जोर चुनाव की तैयारियों को लेकर है। लिहाजा ये सारे कार्यक्रम बूथ स्तर पर कैसे अपने नेटवर्क को मजबूत किया जाए उसको ध्यान में लेकर बनाए जा रहे हैं। नतीजतन इस प्रशिक्षण शिविर में पांच विभिन्न विषयों पर ट्रेनिंग दी जाएगी। अनिल यादव ने बताया कि बूथ मैनेजमेंट पर विशेष फोकस किया जा रहा है। साथ ही साथ सोशल मीडिया के बेहतरीन उपयोग के लिए पदाधिकारियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। इन दो विषयों के अलावा कांग्रेस की विचारधारा, भाजपा- आरएसएस का सच और किसने बिगाड़ा उत्तर प्रदेश नाम से तीन अलग अलग कार्यशाला आयोजित की जा रही है।

उन्होंने बताया कि ‘किसने बिगाड़ा यूपी’ के अंतर्गत भाजपा के अलावा सपा-बसपा राज की कमियों को उजागर करने के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है। 

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!