Saturday, April 20, 2024
Homeउत्तर प्रदेशसोनभद्रजिले में हो रहे विकास कार्यों में बरती जा रही लापरवाही ,अनियमितता...

जिले में हो रहे विकास कार्यों में बरती जा रही लापरवाही ,अनियमितता तथा गुणवत्ता विहीन कार्यों के कारण जिलाधिकारी का तेवर हुआ तल्ख , दिया कड़े कार्यवाही के निर्देश

-

सोनभद्र । जिलाधिकारी चन्द्र विजय सिंह ने आज जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण केन्द्र परिसर में निर्माणाधीन जिला बेसिक शिक्षा कार्यालय का आकस्मिक निरीक्षण किये, निरीक्षण के दौरान उन्होंने कार्य के प्रगति की समीक्षा की तो यह तथ्य प्रकाश में आया कि भवन का निर्माण कार्य काफी खराब है ।

भवन के जोड़ाई के बाद लेण्टर का कार्य नहीं कराया गया है, भवन निर्माण उपयोग की जा रही सामग्री की गुणवत्ता काफी खराब है, जिससे भवन के मजबूती काफी खराब दशा में है। भवन निर्माण में उपयोग में लायी जा रही गिट्टी, बालू व ईंट की गुणवत्ता ठीक नहीं पायी गयी है, जिस पर राजकीय निर्माण निगम के सम्बन्धित जिम्मेदार के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करते हुए टीम गठित कर जाॅच के निर्देश दिये गये।

निर्माण कार्य में काफी शिथिलता व लापरवाही बरतने पर राजकीय निर्माण निगम के जे.ई. के वेतन भुगतान पर रोक लगाने के निर्देश सम्बन्धित को दिये गये और निर्देशित किया गया कि निर्माण कार्य के उपयोग में लायी जा रही खराब सामग्री के खरीद में जिस भी स्तर से कमी बरती गयी है, उनके विरूद्ध भी कड़ी कार्यवाही की जायेगी।

भवन निर्माण के दौरान बनाया जा रहा पीलर के गुणवत्ता ठीक नहीं मिलने पर पीलर के लिए खोदे गये गढ्ढों की लम्बाई व चैड़ाई को मौके पर नापा गया, तो यह तथ्य सामने आया कि गढ्ढा व पीलर मानक के अनुरूप नहीं बनाया गया है।
इसी प्रकार से कस्तुरबा गाॅधी विद्यालय से सटे निर्माणाधीन रिडिंग हाल का जिलाधिकारी ने आकस्मिक निरीक्षण किया गया, निरीक्षण के दौरान पाया गया कि निर्माण कार्य की प्रगति काफी धीमी है और मजदूरों की संख्या कम है, जिस पर काफी नाराजगी व्यक्त करते हुए सम्बन्धित कार्यदायी संस्था आर.ई.डी. व जेई. को कार्य में शीघ्र तेजी लाने के निर्देश दियें।

निर्माण कार्य में लापरवाही व शिथिलता बरतने पर सम्बन्धित अधिकारियों को खिलाफ कार्यवाही के भी निर्देश दिये गये। इस दौरान जिलाधिकारी ने कस्तुरबा गाॅधी बालिका आवासीय विद्यालय के मरम्मत कार्य का निरीक्षण किये और विभिन्न कमरों, शौचालयों आदि का स्थलीय जायजा लिये। उन्होंने सम्बन्धित को निर्देशित किया कि मरम्मत के कार्य में और तेजी लाया जाये, जिससे विद्यालय में पढ़ने वाली बच्चियों को परेशान न होने पड़ें, मरम्मत कार्य में तेजी लाते हुए गुणवत्तयुक्त सामग्री का उपयोग कर समय से पूर्ण किया जाये।

इसी प्रकार से जिलाधिकारी ने डायट परिसर में स्थािपत दिव्यांग बच्चों का आवासीय कैम्प/विद्यालय का भी निरीक्षण किये, इस दौरान जिलाधिकारी ने दिव्यांग बच्चों के लिए निर्मित कक्षों को बारी-बारी से स्थलीय जायजा लिये। इस दौरान उन्होंने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि दिव्यांग बच्चों के रहने के सुविधा के साथ ही उन्हें बेहतर शिक्षा भी दिया जाये, दिव्यांग बच्चों को किसी प्रकार का असुविधा न हो, इसका विशेष ध्यान रखा जाये। जिलाधिकारी ने सम्बन्धितों को निर्देशित किया कि आवासीय विद्यालय में जो भी कमी हो उसे जल्द से जल्द पूरा किया और बच्चों के उपयोग में लाने की कार्यवाही किया जाये।

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!