Sunday, August 7, 2022
spot_img
Homeअंतर्राष्ट्रीयजापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को संदिग्ध हमलावर ने मारी गोली...

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को संदिग्ध हमलावर ने मारी गोली , हालत गंभीर

जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को भाषण के दौरान गोली मारी गई है. उनको अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उनकी हालत बेहद गंभीर बनी हुई है. सुरक्षा एजेंसी ने संदिग्ध हमलावर यामागामी तेत्सुया को गिरफ्तार किया है. वह समुद्री आत्मरक्षा बल का पूर्व सदस्य है. शिंजो आबे को गोली लगने के बाद दिल का दौरा पड़ा.

टोक्यो : जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को गोली मारी गयी. गोली शिंजो आबे के सीने में लगी है, उनको तुरंत हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है. फिलहाल आबे की हालत बेहद गंभीर बनी हुई है क्योंकि उनका काफी खून निकल गया है. पुलिस ने संदिग्ध हमलावर को गिरफ्तार किया है. उससे पूछताछ की जा रही है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

पूर्व प्रधानमंत्री आबे की हालत गंभीर बनी हुई है. गंभीर रूप से घायल आबे को विमान से एक अस्पताल ले जाया गया लेकिन उस समय उनकी सांस नहीं चल रही थी और हृदय गति रुक गयी थी। अधिकारियों ने यह जानकारी दी. जापान के अग्निशमन विभाग का कहना है कि पूर्व पीएम शिंजो आबे कार्डियोपल्मोनरी अरेस्ट ( दिल का दौरा पड़ा) में हैं. उन्हें मेडवैक द्वारा प्रीफेक्चर में काशीहारा शहर के नारा मेडिकल यूनिवर्सिटी अस्पताल में स्थानांतरित किया जाना है. उन्हें पीछे से बन्दूक से गोली मारी गई.

पीएम मोदी ने खेद जताया: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जापान के पूर्व प्रधानमंत्री पर हमले पर खेद जताया. उन्होंने कहा, ‘मेरे प्रिय मित्र शिंजो आबे पर हुए हमले से बहुत व्यथित हूं. हमारी संवेदनाएं और प्रार्थनाएं उनके, उनके परिवार और जापान की जनता के साथ हैं.’

जापान के पीएम बोले इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता: जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा ने कहा कि यह बर्बर और दुर्भावनापूर्ण है. इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. हम वो सब कुछ करेंगे जो हम कर सकते हैं… इस समय, डॉक्टर शिंजो आबे को बचाने के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं.

अमेरिका ने दुख जताया: व्हाइट हाउस की ओर से जारी एक बयान में कहा गया, ‘जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे के खिलाफ हिंसक हमले के बारे में सुनकर हम स्तब्ध और दुखी हैं. हम रिपोर्ट की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं. हमारे विचार उनके परिवार और जापान के लोगों के साथ हैं.’

मुख्य कैबिनेट मंत्री हिरोकाजू मात्सुनो ने पत्रकारों को बताया कि पुलिस ने नारा में घटनास्थल से एक संदिग्ध शख्स को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने नारा सिटी में 41 वर्षीय यामागामी तेत्सुया को कथित तौर पर हत्या के प्रयास के आरोप में गिरफ्तार किया. पुलिस का कहना है कि उन्होंने उस स्थान पर एक बंदूक जब्त की, जिसे संदिग्ध व्यक्ति पकड़े हुए था. संदिग्ध 41 वर्षीय यामागामी तेत्सुया समुद्री आत्मरक्षा बल का पूर्व सदस्य है.

मात्सुनो ने कहा, ‘इस तरह का बर्बर कृत्य पूरी तरह अक्षम्य है, चाहे इसकी कुछ भी वजह हो और हम इसकी कड़ी निंदा करते हैं. सरकारी प्रसारक ‘एनएचके’ ने घटना का एक फुटेज प्रसारित किया है, जिसमें 67 वर्षीय आबे को सड़क पर गिरते हुए देखा जा सकता है और कई सुरक्षाकर्मी उनकी ओर भागते हुए देखे जा सकते हैं. पश्चिमी नारा में एक मुख्य ट्रेन स्टेशन के बाहर जब आबे ने भाषण देना शुरू किया तो उसके कुछ ही मिनटों बाद उन पर गोली चलायी गयी.

प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा उत्तरी जापान में यामगाता के अपने चुनाव प्रचार स्थल से एक हेलीकॉप्टर से तोक्यो लौट रहे हैं। किशिदा और आबे एक ही राजनीतिक दल के हैं. मात्सुनो ने बताया कि सभी कैबिनेट मंत्री अपने प्रचार अभियान को रोककर तोक्यो लौट रहे हैं. एक अन्य फुटेज में चुनाव प्रचार अधिकारियों को अपने लोकप्रिय नेता के आसपास इकट्ठा होते देखा जा सकता है.

आबे सत्तारूढ़ लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी में अब भी प्रभावशाली नेता हैं और वह उसके सबसे बड़े धड़े सेइवकाई का नेतृत्व करते हैं। जापानी संसद के ऊपरी सदन के लिए मतदान रविवार को होना है. आबे भाषण दे रहे थे, जब लोगों ने गोलियों की आवाज सुनी. गोली लगने के बाद वह जमीन पर गिर पड़े और उन्होंने अपने सीने पर हाथ रखा हुआ था, उनकी कमीज पर खून लगा हुआ था. दुनिया के सबसे सुरक्षित देशों में से एक माने जाने वाले जापान में यह हमला हैरान करने वाला है. जापान में बंदूक नियंत्रण के सख्त कानून लागू हैं.

अस्पताल ले जाते वक्त नहीं चल रही थी सांस: जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे पर देश के पश्चिमी हिस्से में चुनाव प्रचार के एक कार्यक्रम में भाषण के दौरान शुक्रवार को गोली चलायी गयी. गंभीर रूप से घायल आबे को विमान से एक अस्पताल ले जाया गया लेकिन उस समय उनकी सांस नहीं चल रही थी और हृदय गति रुक गयी थी. स्थानीय दमकल विभाग के अधिकारी मकोतो मोरिमोतो ने बताया कि आबे को गोली लगने के बाद दिल का दौरा पड़ा या या सीपीए हुआ.

मोरिमोतो के अनुसार, इसका मतलब है कि विमान से एक प्रांतीय अस्पताल तक ले जाते समय आबे की सांस नहीं चल रही थी और हृदय गति रुक गयी थी. मुख्य कैबिनेट मंत्री हिरोकाजू मात्सुनो ने पत्रकारों को बताया कि पुलिस ने नारा में घटनास्थल से एक संदिग्ध शख्स को गिरफ्तार किया है. सरकारी प्रसारणकर्ता ‘एनएचके’ ने घटना का एक फुटेज प्रसारित किया है, जिसमें आबे को सड़क पर गिरते हुए और कई सुरक्षाकर्मियों को उनकी ओर भागते हुए देखा जा सकता है। आबे जब जमीन पर गिरे तो उन्होंने अपने सीने पर हाथ रखा हुआ था और उनका खून बह रहा था.

जापान के स्थानीय मीडिया के अनुसार जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को गोली मारने वाले व्यक्ति की पहचान 41 वर्षीय यामागामी तेत्सुया के रूप में हुई है. गोली मारने के कारणों का पता नहीं चल सका है. पूर्व पीएम शिंजो आबे पर यह हमला नारा शहर में हुआ. घटना के समय वह भाषण दे रहे थे. अचानक से आबे नीचे गिर गये. उनके शरीर से खून भी निकल रहा था.

शिंजो आबे के अचानक ऐसे गिरने से वहां मौजूद लोगों को कुछ समझ नहीं आया. लेकिन इसी दौरान कुछ लोगों ने वहां गोली चलने जैसी कुछ आवाज सुनी थी. फिलहाल, एक संदिग्ध को गिरफ्तार कर लिया गया है. ज्ञात हो कि जापान में रविवार को उच्च सदन के चुनाव होने हैं. इसके लिए शिंजे आबे चुनाव प्रचार अभियान में जुटे थे.

हमले के बाद के कुछ वीडियो फुटेज सामने आए हैं. इसमें वहां भगदड़ की स्थिति देखी जा सकती है. वहीं, वीडियो में गोली चलने पर धुंआ उठता हुआ भी दिखाई दे रहा है. पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने साल 2020 में स्वास्थ्य ठीक नहीं रहने के चलते प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था. वह लंबे वक्त से बीमार चल रहे थे. शिंजो आबे का जन्म टोक्यो में एक राजनीतिक रूप से प्रमुख परिवार में हुआ था. उनका परिवार मूल रूप से यामागुची प्रान्त से है. पीएम नरेंद्र मोदी के साथ शिंजो आबे के अच्छे संबंध रहे हैं.

Share This News
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Share This News