Saturday, May 18, 2024
Homeबिग ब्रेकिंगकेदारनाथ धाम में महाराष्‍ट्र और गुजरात के तीन तीर्थ यात्रियों की हार्ट...

केदारनाथ धाम में महाराष्‍ट्र और गुजरात के तीन तीर्थ यात्रियों की हार्ट अटैक से हुई मौत

-

केदारनाथ दर्शनों को आने वाले तीर्थ यात्रियों की मौत का सिलसिला नहीं थम रहा है। बीते रोज केदारनाथ धाम में मुंबई के दो और गुजरात के एक तीर्थ यात्री की मौत हो गई। अब तक कुल 146 तीर्थ यात्रियों की मौत हो चुकी है।

रुद्रप्रयाग : केदारनाथ दर्शनों को आने वाले 146 तीर्थयात्रियों की अब तक मौत हो चुकी है। वहीं रविवार को तीन यात्रियों की हृदय गति रुकने से मौत हुई। वहीं अब तक कुल एक लाख 95 हजार 832 यात्रियों का उपचार केदारनाथ धाम व पैदल मार्ग पर किया जा चुका है। जबकि 12 हजार से अधिक यात्रियों को आक्सीजन दी गई।

रविवार को तीन यात्रियों की हृदय गति रुकने से मौत हुई।

अब तक 146 की हो चुकी है मौत

केदारनाथ धाम में इस वर्ष रिकार्ड तीर्थयात्री दर्शनों को पहुंचे हैं, वहीं बाबा के दर्शन करने के लिए आने वाले 146 यात्रियों की मौत का भी रिकार्ड बना है। अब तक वर्ष 2012 में सबसे अधिक 73 यात्रियों की मौत हुई थी। लेकिन इस यात्रा सीजन में सभी रिकार्ड टूट गए हैं।

jagran

तीन तीर्थ यात्रियों ने तोड़ा दम

  •  गत रविवार को 29 वर्षीय आशीष मोरे निवासी मुंबई थाने की भीमबली में अचानक तबियत बिगड़ गई, जिससे गौरीकुंड लाते समय उनकी मौत हो गई।
  • 75 वर्षीय जुवन सिंह निवासी जामनगर गुजरात की मंदिर परिसर के पास अचानक तबितय बिगड़ गई, चिकित्सालय पहुचाने पर डाक्टरों ने मृत घोषित कर देगा।
  • 57 वर्षीय अंजली गोविन्द निवासी काठकोपर वेस्ट मुंबई की केदारनाथ पैदल मार्ग पर तबियत बिगड़ गई, गौरीकुंड लाने पर उसे डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।
  • केदारनाथ धाम की विषम भौगोलिक परिस्थितियों व आक्सीजन की कमी, ठंड अधिक होने से यात्रियों की प्रत्येक वर्ष असमय मौत हो जाती है।

किया जा रहा है स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा एचसीएस. मार्तोलिया ने बताया कि श्री केदारनाथ धाम में दर्शन करने आ रहे श्रद्धालुओं में यदि किसी का स्वास्थ्य खराब हो जाता है तो स्वास्थ्य विभाग द्वारा तत्परता से स्वास्थ्य परीक्षण करते हुए उपचार किया जा रहा है।

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!