Friday, June 21, 2024
Homeउत्तर प्रदेशमिर्जापुरआदिवासी मजदूर के बेटे जितेंद्र कुमार कोल ने डीएसपी बनकर रचा मिर्जापुर...

आदिवासी मजदूर के बेटे जितेंद्र कुमार कोल ने डीएसपी बनकर रचा मिर्जापुर जिले का इतिहास

-

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग यानी यूपी पीसीएस 2022 में मिर्जापुर के आदिवासी इलाके में रहने वाले जितेंद्र कुमार कोल ने 87 वीं रैंक हासिल की है. जिले के आदिवासियों में जितेंद्र कुमार कोल पहले शख्स हैं , जो पीसीएस परीक्षा पास कर डीएसपी बने हैं.

मिर्जापुर : यूपी पीसीएस 2022 का रिजल्ट शुक्रवार को घोषित हो गया. आदिवासी बाहुल्य पिछड़े इलाके में रहने वाले जितेंद्र कुमार कोल ने 87वीं रैंक हासिल कर क्षेत्र का नाम रोशन किया है. बेटे के डीएसपी के पद पर चयन होने से परिवार में खुशी का मौहाल है. मिर्जापुर जनपद के लालगंज विकास खंड के जयकर कला गांव के रहने वाले जितेंद्र इसके पहले पीसीएस में चयनित होकर समीक्षा अधिकारी बने थे. अब 2022 यूपीपीसीएस परीक्षा परिणाम में 87वां रैंक पाकर डीएसपी के पद पर चयन हुआ है.

बता दें कि मिर्जापुर जनपद विकासखंड लालगंज आदिवासी इलाका है. इसके साथ ही इसे सबसे पिछड़ा इलाका माना जाता है. आदिवासियों में जितेंद्र कुमार कोल पहले शख्स हैंं, जो पीसीएस परीक्षा पास कर डीएसपी बने हैं. पिता के मौत के बाद भी जितेंद्र कुमार ने बड़े भाई धर्मेंद्र कोल के सहयोग से अपना पढ़ाई जारी रखी.

जूनियर हाईस्कूल तक की उन्होंने गांव के ही प्राथमिक विद्यालय जाकर कला वर्ग की पढ़ाई की. इसके बाद कक्षा 9 से इंटरमीडिएट तक क्षेत्र के देवराहा बाबा इंटर कॉलेज दुबार कला से शिक्षा ग्रहण की हैं. फिर गांव से निकलकर जितेन्द्र इलाहाबाद विश्वविद्यालय से स्नातक किया.

स्नातक के बाद इतिहास से पीएचडी की डिग्री लेकर जितेंद्र ने सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी. साल 2013 में अपने पहले प्रयास में जितेंद्र लोअर पीसीएस में समीक्षा अधिकारी के पद पर चयनित हुए. लेकिन, उन्होंने अपनी पढ़ाई जारी रखी. इसका नतीजा रहा की अब पीसीएस 2022 की परिक्षा में उन्होंने 87वीं रैंक हासिल की.

जितेंद्र की सफलता मिलने पर बड़े भाई धर्मेंद्र कोल से मिलकर गांव में बधाई देने पहुंच रहे है. बधाई देने वालों में ग्राम प्रधान शारदा सिंह, पूर्व प्रमुख जय कुमार सिंह व नीरज सिंह, सोनू सिंह, रमेश कुमार यादव, अरविंद यादव, कीर्ति कोल ने बधाई दी.

सम्बन्धित पोस्ट

Stay Connected

0FansLike
0FollowersFollow
3,912FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

ताज़ा समाचार

error: Content is protected !!