Contact Information

Maya Niwas, ward 5, Jawahar Nagar, sonbhadra Pin: 231216

We Are Available 24/ 7. Call Now.

कोलकाता :

कोरोनावायरस (Coronavirus) और प्रवासी मजदूरों के मामले में पश्चिम बंगाल सरकार और केंद्र सरकार के बीच तनातनी जारी है. राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banarjee) ने ट्रेनों के परिचालन को लेकर रेल मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) पर भी निशाना साधा. CM ममता बनर्जी ने बुधवार को मीडिया ब्रीफिंग के दौरान कहा, ‘मैंने अमित शाह से कहा कि आप लगातार केंद्र की टीमों को बंगाल भेज रहे हो, आप भेजो लेकिन अगर आपको लगता है कि पश्चिम बंगाल सरकार काम नहीं कर सकती, तो आप कोरोना संकट को खुद क्यों नहीं संभालते? मुझे कोई समस्या नहीं है.’ वह आगे कहती हैं, ‘उन्होंने जवाब में जो कुछ कहा, उसके लिए मैं उनकी शुक्रगुजार हूं. उन्होंने कहा, नहीं, नहीं, हम एक निर्वाचित सरकार को कैसे नापसंद कर सकते हैं.’

मुख्यमंत्री बनर्जी ने आगे कहा, ‘मैं प्रधानमंत्री और गृह मंत्री से कहना चाहती हूं कि कृपया देखिए कि कोरोना फैले नहीं. भारत में पहले ही कोरोना संक्रमितों की संख्या एक लाख पार हो गई है. कुछ लोग इसे राजनीति के लिए फैलाना चाहते हैं. बिहार प्रभावित है. राजस्थान, मध्य प्रदेश ये सभी जगह फैल रहा है. मैं क्या कर सकती हूं. इस संकट के समय मैं चाहती हूं कि प्रधानमंत्री हस्तक्षेप करें.’

इससे पहले प्रवासी मजदूरों को ट्रेन से पश्चिम बंगाल भेजे जाने पर CM ममता बनर्जी ने कहा था, ‘मैं नहीं जानती कि रेल मंत्रालय ऐसा क्‍यों कर रहा है. हम दो लाख प्रवासी मजदूरों की जांच किस तरह करेंगे क्‍या केंद्र मदद करेगा. रेलों में सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन क्‍यों नहीं किया जा रहा है. हम टिकट के लिए भुगतान कर रहे हैं लेकिन कोचों में बहुत अधिक संख्‍या में यात्री हैं.’

उन्होंने आगे कहा, ‘आप महाराष्‍ट्र को खाली कर रहे हैं और बंगाल में कोरोना फैला रहे हैं. यदि आप इस बात को नहीं समझ रहे तो क्‍या ये मेरी नाकामी है. कंटेनमेंट जोन को बरकरार रखा जाना चाहिए. मैं नहीं चाहती कि भारत का बड़ा क्षेत्र रेड जोन में तब्‍दील हो जाए. आपने ही रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन का निर्धारण किया लेकिन अब रेड जोन बढ़ रहा है.’

मुख्यमंत्री बनर्जी ने आगे कहा, ‘मैं प्रधानमंत्री और गृह मंत्री से कहना चाहती हूं कि कृपया देखिए कि कोरोना फैले नहीं. भारत में पहले ही कोरोना संक्रमितों की संख्या एक लाख पार हो गई है. कुछ लोग इसे राजनीति के लिए फैलाना चाहते हैं. बिहार प्रभावित है. राजस्थान, मध्य प्रदेश ये सभी जगह फैल रहा है. मैं क्या कर सकती हूं. इस संकट के समय मैं चाहती हूं कि प्रधानमंत्री हस्तक्षेप करें.’

इससे पहले प्रवासी मजदूरों को ट्रेन से पश्चिम बंगाल भेजे जाने पर CM ममता बनर्जी ने कहा था, ‘मैं नहीं जानती कि रेल मंत्रालय ऐसा क्‍यों कर रहा है. हम दो लाख प्रवासी मजदूरों की जांच किस तरह करेंगे क्‍या केंद्र मदद करेगा. रेलों में सोशल डिस्‍टेंसिंग का पालन क्‍यों नहीं किया जा रहा है. हम टिकट के लिए भुगतान कर रहे हैं लेकिन कोचों में बहुत अधिक संख्‍या में यात्री हैं.’

उन्होंने आगे कहा, ‘आप महाराष्‍ट्र को खाली कर रहे हैं और बंगाल में कोरोना फैला रहे हैं. यदि आप इस बात को नहीं समझ रहे तो क्‍या ये मेरी नाकामी है. कंटेनमेंट जोन को बरकरार रखा जाना चाहिए. मैं नहीं चाहती कि भारत का बड़ा क्षेत्र रेड जोन में तब्‍दील हो जाए. आपने ही रेड, ऑरेंज और ग्रीन जोन का निर्धारण किया लेकिन अब रेड जोन बढ़ रहा है.’

Share:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *